भारी बरसात से शहर हुआ नरक , कांग्रेसी नेता सुमित गौड़ ने नाव चलाकर कुंभकरणीय सरकार को किया जगाने का प्रयास

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

फरीदाबाद, 11 सितम्बर ( धमीजा): स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में शुक्रवार व शनिवार को हुई बरसात के बाद पूरा शहर जलभग्न हो गया। जलभराव के चलते आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। कई कालोनियों व सेक्टरों में तो पानी लोगों के घरों अंदर पानी पहुंच गया और उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ा। पूरे शहर में यातायात जाम हो गया , 5 -10  मिनट का रास्ता घंटों में पार हुआ।  जगह जगह दो पहिया वाहन एवं कारें भारी जलभराव के कारण बीच रास्ते में ही बंद हो गए।  बिजली गुल हो गयी।  लोग प्रशासन व सरकार को कोसते नज़र आये।  औद्योगिक नगरी के लोगो को लग रहा था कि वह किसी पिछड़ी बस्ती में रह रहे हैं।  कुल मिलाकर पूरा नज़ारा नारकीय और बदहाल था।  लोग अपने अपने इलाकों में पानी भरने और वाहन डूबने वाली स्थितियों की फोटो व वीडियो बना कर सोशल मीडिआ  पर डालते रहे , पूरा दिन यही चलता रहा।
वहीं स्मार्ट सिटी की इस बदहाली को लेकर आज कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता सुमित गौड़ सहित अन्य कांग्रेसजनों ने जिला मुख्यालय की ओर जाने वाली सडक़ पर नाव चलाकर अनोखा विरोध प्रदर्शन कर भाजपा सरकार के खिलाफ अपना रोष जाहिर करते हुए कुम्भकर्णीय सरकार को जगाने का प्रयास किया। सेक्टर-10 स्थित कांग्रेस भवन से कांग्रेस प्रवक्ता सुमित गौड़ व चेयरमैन राकेश भड़ाना नाव पर सवार होकर भाजपा विधायक नरेंद्र गुप्ता के कार्यालय तक पहुंचे और सडकों पर हुए जलभराव का जायजा लिया। सुमित गौड़ ने कहा कि भाजपा सरकार का विकास एक दिन की बरसात में पूरी तरह से सडक़ों पर आ गया है, यह सरकार केवल और केवल जुमलेबाजी की सरकार है। इस सरकार में विकास केवल कागजों में हुआ है। उन्होंने कहा कि आज बरसात ने निगम प्रशासन के तमाम दावों को झुठला दिया है। शहर के पॉश सेक्टरों सहित कालोनियों में हालात बद से बदत्तर हो गए है। सडक़ों पर कई-कई फुट पानी जमा होने के कारण लोगों के वाहन बंद हो गए और उन्हें आवाजाही में परेशानियां पेश आने लगी हैए लेकिन भाजपा नेता और प्रशासनिक अधिकारी बरसात में लोगों को राहत देने के लिए घरों में दुबके बैठे है। उन्होंने कहा कि भाजपा की स्वयंभू स्मार्ट सिटी की आज पूरी तरह से पोल खुल गई है क्योंकि जब सेक्टरों कें नाव चलाने की नौबत आ गई है तो इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि शहर के क्या हालात होंगे। उन्होंने कहा कि यह सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है और इस सरकार में विकास के नाम पर केवल और केवल भ्रष्टाचार हुआ है, लेकिन कांग्रेस पार्टी भाजपा सरकार की नीतियों का विरोध करती है और आमजन को इस सरकार की सच्चाई से वाकिफ करवाने के लिए पार्टी हर स्तर पर संघर्ष करेगी।
सेक्टर -7 , 8 , 9 , 15 ए , 16  सहित जवाहर कॉलोनी , डबुआ कॉलोनी , एनआईटी के तमाम इलाके पानी में डूबे रहे।  शायद ही ऐसा कोई इलाका रहा जहां जल भराव नही हुआ।  सूरजकुंड व एनआइी क्षेत्र को राष्ट्रीय राजमार्ग को जोडऩे वाले अंडरपास क्रमश: ग्रीन फील्ड, मेवला महाराजपुर व ओल्ड फरीदाबाद अंडरपासों में बरसाती पानी भरा गया। बरसाती पानी की वजह से वाहन एक-ओर से दूसरे ओर नहीं जा सकें। नीलम पुल, बाटा पुल व बल्लभगढ़-सोहना पुल पर वाहनों की लम्बी-लम्बी करतारें लग गई। स्मार्ट सिटी के अधिकारियों का दावा था कि अंडरपास में पानी नहीं भरेगा। अगर भरेगा तो उसे जल्द से जल्द निकलवाया जाएगा।

बरसात के बाद औद्योगिक नगरी में बीती रात से ही बिजली की आंख में मिचौनी जारी रही। बार-बार लाईट आने-जाने का सिलसिला पूरी तरह चलता रहा। शनिवार दोपहर तक क्षेत्र की बिजली कई स्थानों पर बहाल हुई तो कई स्थानों पर देर सायं तक अंधेरा ही पसरा रहा। बिजली न आने की वजह से इनवर्टर तक फेल हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *