हरिद्वार: फरीदाबाद क्राइम ब्रांच के सिपाही की गोली मारकर हत्या, हत्यारा आरोपी गिरफ्तार 

Spread the love

फरीदाबाद , 1  अक्टूबर ( धमीजा ) : डकैती के मामले में फरार चार आरोपियों की तलाश में हरिद्वार पहुंची फरीदाबाद क्राइम ब्रांच के एक पुलिसकर्मी की लुटेरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। सिपाही की हत्या की सूचना मिलते ही फरीदाबाद से डीसीपी क्राईम, एसीपी क्राईम सहित क्राईम ब्रांच सैक्टर-30 के पुलिस कर्मचारी हरिद्वार पहुंचे तथा हरिद्वार जिला अस्पताल में शहीद सिपाही संदीप का पोस्टमार्टम करवा कर शव जिला सोनीपत के पैतृक गांव कथूरा के लिए चल दिए थे। मृतक सिपाही संदीप क्राइम ब्रांच पुलिस सेक्टर -30 में तैनात था .  पुलिसकर्मी की हत्या के मामले में पुलिस ने हत्यारे बदमाश को पकड़ लिया है। हत्यारे आरोपी को पुलिस ने शुक्रवार तड़के हरकी पैड़ी के पास से गिरफ्तार कर लिया गया है।

जानकारी के मुताबिक आरोपी को तड़के चार बजे हरकी पैड़ी के पास रोड़ी बेलवाला से गिरफ्तार किया गया है। आरोपी यहां झाड़ियों में छिपा था। बताया गया कि गुरुवार रात को पुलिस ने सर्च अभियान चलाया तो उक्त आरोपी पुल से गंगा में कूद गया था। उसके पीछे कुछ स्थानीय लोग भी गंगा में कूद गए थे, लेकिन रात को वह पकड़ में नहीं आ पाया था।
  बताया जा रहा है कि रात करीब 10 बजे टीम ने बदमाशों को पंतदीप पार्किंग के पास ट्रेस कर लिया। क्राइम ब्रांच की टीम ने घेराबंदी कर चारों बदमाशों को दबोच लिया। इसी बीच अचानक एक बदमाश ने जुराब से पिस्टल निकालकर फायरिंग कर दी। एक गोली क्राइम ब्रांच के सिपाही एवं चालक संदीप (38) की कनपटी में जा लगी। आननफानन उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

 फरीदाबाद में कुछ समय पहले बदमाशों ने डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। फरीदाबाद क्राइम ब्रांच की टीम बदमाशों की तलाश में जुटी हुई थी। बदमाशों की लोकेशन हरिद्वार में मिलने पर गुरुवार को क्राइम ब्रांच के आठ पुलिसकर्मियों की टीम यहां पहुंच गई। जहां बदमाशों ने पुलिसकर्मी संदीप की गोली मारकर हत्या कर दी।
शहर की संजय कालोनी सेक्टर 23 में 28 सितंबर की रात किराना कारोबारी मोहित अग्रवाल के घर बदमाशों ने उन्हें बंधक बना कर डकैती डाली थी। हथियार के बल पर बदमाश वहां से पांच लाख की रकम, सोने की चेन, मोबाइल फोन आदि सामान ले गए। विरोध करने पर बदमाशों ने मोहित अग्रवाल के पिता वेद अग्रवाल पर दो फायर भी झोंके। यही नहीं, भागते वक्त एक राहगीर को भी गोली मारी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *