महंगाई का एक और झटका , एक अप्रैल से हरियाणा में बढ़ेंगी टोल दरें

Spread the love

फरीदाबाद , 28 मार्च ( धमीजा ) : हरियाणा के लोगों को 1 अप्रैल से महंगाई का एक और झटका लगने वाला है। एक अप्रैल से प्रदेश के लगभग सभी टोल टैक्सों पर टोल दरें महंगी होंगी। केएमपी (कुंडली-मानेसर-पलवल) और केजीपी (कुंडली-गाजियाबाद-पलवल) के साथ हरियाणा सरकार के सभी टोल रोड़ पर टैक्स में बढ़ोतरी होने जा रही है। टोल टैक्स बढ़ाने के पीछे लॉकडाउन के दौरान हुए घाटे को पूरा करने का कारण बताया जा रहा है। वहीं, लोगों में नाराजगी है कि बिना सुविधाएं ही टोल दरें क्यों बढ़ाई जा रही है।

सुविधाओं से वंचित है हाइवे 

केएमपी पर टोल बैरियर के अलावा कहीं लाईट नहीं लगाई गई हैं। सडक जगह-जगह से टूटी पड़ी है और पानी निकासी की नाली भी टूटी पड़ी है। डिवाइडर पर आज तक फूल नहीं लगे और पानी का छिड़काव भी नहीं हो रहा है। इतना ही नहीं सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं है और दूर तक टॉयलेट भी नहीं है। वाहनों में तेल और गैस भरने तक के प्रबंध नहीं है।

भारी बढ़ोतरी होगी टोल रेटों में 

केएमपी पर हल्के सवारी वाहन जैसे कार 1.35 रुपए, हल्के वाणिज्यिक वाहन से 2.18 व भारी वाहनों से 4.96 रुपए प्रति किलोमीटर वसूली की जा रही है। कार से 30 से 205 और हल्के व भारी वाणिज्यिक वाहन से 100 से 1490 रुपए तक वसूली की जा रही है। एक अप्रैल से कार चालकों को पलवल से नूंह का 45 रुपए, तावडू का 70 रुपए और गुरुग्राम का करीब 90 रुपए टोल देना होगा।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बढ़ी हुई टोल दरें 31 मार्च आधी रात से शुरू होंगी। इसमें करीब पांच रुपए प्रति किलोमीटर तक की बढ़ौतरी होगी।