पलवल हाइवे पर करमन व गदपुरी में टोल शुरू , विरोध भी आरम्भ

Spread the love

फरीदाबाद , 3 अप्रैल ( धमीजा ) : हरियाणा के पलवल में नेशनल हाईवे-19 पर करमन बार्डर और गदपुरी टोल प्लाजा का ट्रायल शुरू हो गया है। दोनों टोल प्लाजा पर 15 दिन के ट्रायल के दौरान वाहन चालकों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। ट्रायल के दौरान टोल वसूली के लिए लगाए गए सभी उपकरणों व साफ्टवेयर का परीक्षण किया जा रहा है।

NH-19 पर बने इन दोनों टोल बूथों पर ट्रायल प्रक्रिया को उसी प्रकार पूरा किया जा रहा है, जिस प्रकार टोल वसूली के दौरान किया जाएगा। वाहनों के आगे बूम गिराकर उसे रोका जा रहा है। ट्रायल के दौरान बत्ती लाल होती है, वाहन की नंबर प्लेट और फॉस्टैग स्कैन होता है, लेकिन पैसे नहीं कटते। उसके बाद बत्ती हरी होते ही बूम ऊपर उठकर वाहन को निकलने की अनुमति देता है।

टोल ऑपरेशन के सीनियर मैनेजर शहनवाज खान ने बताया कि ट्रायल पूरा होने के बाद एनएचएआई को रिपोर्ट भेजी जाएगी। रिपोर्ट की जांच करने के बाद एनएचएआई टोल प्लाजा चालू करने की तिथि तय करेगी, लेकिन इसी माह टोल प्लाजा शुरू होने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि दोनों टोल प्लाजा पर 40-40 कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है। गदपुरी टोल प्लाजा पर कुल 24 लेन बनाई गई हैं। जिनमें 12 लेन फरीदाबाद की तरफ जाने के लिए और 12 लेन फरीदाबाद से पलवल की तरफ आने के लिए है। जबकि करमन बार्डर पर 16 लेन बनाई गईं हैं, जिनमें आठ आने के लिए और आठ जाने के लिए है।

 भारी विरोध के बावजूद टोल शुरू 

निर्माण शुरू होने के समय से ही गदपुरी टोल प्लाजा का विरोध हो रहा है। कई लोगों का कहना है कि फरीदाबाद-पलवल के बीच पडने वाले इस टोल प्लाजा से रोजाना करीब 60 हजार से अधिक वाहन गुजरते हैं, जिनमें करीब 30 हजार निजी वाहन हैं। इस टोल प्लाजा के शुरू हो जाने से इसका सबसे अधिक खामियाजा पलवल, होडल, हथीन के नौकरीपेशा लोगों, व्यापारियों, किसानों, मजदूरों के अलावा छोटे-बड़े उद्योगों पर भी पड़ेगा। क्योंकि पलवल-फरीदाबाद आपस में हर कार्य के लिए जुड़े हुए और लोगों को प्रतिदिन अपने निजी कार्यों के लिए फरीदाबाद आना-जाना लगा रहता है।