कोरोना : हो जाएँ सावधान , फरीदाबाद में 27 और गुरुग्राम में आये 146 नए मामले

Spread the love

फरीदाबाद , 13 अप्रैल ( धमीजा ) कोरोना की चौथी लहर ने दिल्ली एनसीआर सहित फरीदाबाद में भी दस्तक दे दी है।  आज इस औद्योगिक नगरी में 27 और फरीदाबाद के साथ लगते गुरुग्राम में 146 नए संक्रमित मामले आये हैं। जी हाँ ये एक दिन में आये कोरोना संक्रमित मामले हैं और ये वो मामले हैं जिन्हे स्वास्थ्य विभाग ने ऑफिशियली घोषित किया है।  सरकार द्वारा कोरोना के दौरान लगाई गई सभी पाबंदियां हटाए जाने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली थी। ऐसा लग रहा था कि अब शायद सब कुछ पहले की तरह सामान्य जनजीवन चलने लगेगा , लेकिन बढ़ रहे कोरोना मामलों को देख कर एहसास हो रहा है कि अब भी लोगों को बचाव के उपाय करने चाहिये। सरकार द्वारा मास्क की पाबंदी हटाए जाने के बाद ज़यादातर सभी लोगों ने मास्क लगाना बंद कर दिया है , लेकिन लगता है ये लोगों के लिए घातक सिद्ध हो सकता है।

कोरोना के बढ़ते मामले चिंता का विषय है। इसे किसी भी हालत में हलके में नहीं लेना चाहिये। नोएडा और ग़ाज़िआबाद में तीन स्कूलों में बच्चों में कोरोना संक्रमण के कारण स्कूल तुरंत बंद करने पड़े। इनसे स्पष्ट है कि सरकार भले ही पाबंदियां लगाए या ना लगाए लेकिन जनता को अब अपना ध्यान खुद रखना पडेगा। शहर के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ सुरेंद्र दत्ता का कहना है कि मास्क ,सेनिटाइज़र और बार बार हाथ धोने की आदत हमारे जीवन का ज़रूरी हिस्सा बन गया है। उनका कहना है कि अब जो मामले आ रहे हैं उनमे किसी भी प्रकार के निर्धारित लक्षण नहीं हैं , लक्षण हो तो तुरंत बचाव और ईलाज शुरू किया जा सकता है। लेब में जांच के बाद ही पता चल पाता है कि कोरोना पॉजिटिव हैं। हालांकि अभी कोई सीरियस केस नहीं आया है लेकिन शुरू में ही बचाव करने से स्थिति से बचा जा सकता है। बचाव के लिए भीड़ भाड़ में जाने से भी बचना चाहिये। भारत में अभी तक  कोरोना की चौथी लहर की सरकारी घोषणा नहीं हुई है लेकिन कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले आगाह कर रहे हैं कि लोगों को अभी से बचाव करना चाहिये।