कुलदीप बिश्नोई का अंदाज़ : कांग्रेस से निष्कासन के बाद शेयर ओ शायरी में व्यक्त कर रहे हैं अपनी बात

Spread the love

चंडीगढ़ , 13 जून ( धमीजा ) : हरियाणा राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार को वोट न देकर अजय माकन को हरवाने वाले कुलदीप बिश्नोई अब शेयर ओ शायरी कर रहे हैं। कुलदीप बिश्नोई पिछले 3 दिनों से हर रोज अपनी बात शेयरो शायरी से व्यक्त कर रहे हैं।

सोमवार सुबह कुलदीप बिश्नोई ने ट्वीट किया कि कागजों पे लिखकर जाया कर दूं मैं, वो शख्स नहीं, वो शायर हूं, जिसे जमाने के दिलों पर लिखने का हुनर आता है। हालांकि उनकी इस शेरो शायरी पर यूजर्स भी अपनी राय दे रहे हैं, कोई उनके पक्ष में और कोई विपक्ष में कमेंट कर रहा है ।

कुलदीप बिश्नोई द्वारा किया गया ट्वीट

 उनसे नाराज़ होने वालों ने की ये टिप्पणी 

यूजर्स मुसाहिद खान ने जवाब दिया कि अगर आप इतने काबिल होते तो अपनी बनाई हुई पार्टी खत्म नहीं करते। एक दूसरे यूजर्स जगदीश कुमार ने जवाब दिया कि आप हमेशा जल्दबाजी में फैसला लेते हैं, जिसका खामियाजा आपको पहले भी भुगतना पड़ा है।

 राज्यसभा चुनाव के बाद की थी ये शायरी 

रविवार को कुलदीप ने ट्वीट किया कि ‘यदि तुम आसमान में बाज के साथ उड़ना चाहते हो तो बत्तख के साथ तैरना छोड़ दो’। अजय माकन की हार के बाद कुलदीप बिश्नोई ने ट्वीट किया कि ‘फन कुचलने का हुनर आता है मुझे, सांप के खौफ से जंगल नहीं छोड़ा करते’।

14 और 15 को बनाएंगे आगे की रणनीति