बिहार : नई सरकार के गठन से पहले सोनिया और लालू से तेजस्वी की मंत्रणा

Spread the love

दिल्ली , 12 अगस्त ( धमीजा ) : बिहार में नई सरकार के गठन के साथ ही अब मंत्रिमंडल को लेकर कवायद शुरू हो गई है। इसी सिलसिले में राष्ट्रीय जनता दल नेता और राज्य के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव शुक्रवार को अपने पिता लालू यादव से मिलने दिल्ली पहुंचे। इसके बाद वे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से उनके आवास 10 जनपथ में मिलने गए। उनके साथ राज्यसभा सांसद मनोज झा भी थे।

सोनिया से मुलाकात के बाद तेजस्वी यादव ने कहा कि जो बिहारी होता है, वह बिकाऊ नहीं, टिकाऊ होगा। फिर से बिहार ने करके दिखाया है। बैठक में भाजपा को बिहार में सत्ता से बेदखल करने के साथ ही मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री पद की शपथ के बाद आगे की रणनीति पर बातचीत की गई।

सोनिया गांधी से मिलने के बाद तेजस्वी ने मीडिया से कहा, ‘बिहार में महागठबंधन के बाद सहयोगी दलों के शीर्ष नेताओं से मुलाकात की है। इसमें डी राजा और सोनिया गांधी भी शामिल हैं। ये सरकार मजबूती के साथ चलेगी। यह सरकार गरीबों की है और असली है।

नीतीश कुमार का जो निर्णय है, उन्होंने सही समय में भाजपा को तमाचा मारने का काम किया है। अब बिहार एसेंबली में भाजपा को छोड़कर सभी दल एक हो चुके हैं। यही दृश्य देश भर में दिखने वाला है। सभी लोग सामुदायिक तनाव, बेरोजगारी और महंगाई से तंग है।

मंत्रिमंडल के लिए लालू यादव और सोनिया गाँधी से मंत्रणा 
चर्चा है कि तेजस्वी यादव राजद कोटे से मंत्री बनने वाले नेताओं की लिस्ट लालू प्रसाद के साथ मंत्रणा कर फाइनल करेंगे। इसमें सोशल इंजीनियरिंग और राजद के प्रति आस्था को खास तरजीह दी जाएगी। विधानसभा अध्यक्ष और विधान परिषद सभापति को लेकर भी लालू प्रसाद से वे बातचीत करेंगे।

उनकी नजर कांग्रेस की तरफ भी है कि कांग्रेस किेसे मंत्री बनाना चाहती है। चूंकि सोनिया गांधी और लालू प्रसाद के बीच राजनीतिक रिश्ते काफी बेहतर हैं, इसलिए बातचीत के जरिए मंत्री पद को फाइनल किया जाएगा।

कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी भक्त चरण दास भी दिल्ली रवाना हो चुके हैं।  बता दें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अनिल शर्मा ने एक दिन पहले मांग की थी कि आंध्र प्रदेश की तर्ज पर बिहार में भी सोशल इंजीनियरिंग का ध्यान रखते हुए पांच उपमुख्यमंत्री बनाए जाएं।

लोकतंत्र खतरे में है , ईडी और सीबीआई का हाल बेहाल : तेजस्वी 

तेजस्वी ने कहा, ‘हिंदू-मुस्लिम को लड़ा कर जो राज कर रहे हैं। हमारा संविधान और लोकतंत्र खतरे में है। भाईचारा खतरे में है। बिहार में ये काम करके दिखाया है। आपने देखा कि महाराष्ट्र में क्या हुआ एमपी में क्या हुआ? भाजपा यहां पर दलों को तोड़ने का काम कर रही है। जो डरेगा उसे डराओ, जो बिकेगा उसे खरीदो। ईडी को, सीबीआई का हाल थाने से भी गया-गुजरा है। सभी संस्थाओं को बर्बाद किया जा रहा है। जो बिहारी होता है, वह बिकाऊ नहीं, टिकाऊ होगा। फिर से बिहार ने करके दिखाया है। नीतीश कुमार ने करके दिखाया है।

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने इसका खुलासा किया है कि भाजपा कैसे एक एक करके क्षेत्रीय दलों को खत्म कर रही थी। अधिकतर दल पिछड़ों का है। उसे ही खत्म करने का काम BJP कर रही है।’

इससे पहले तेजस्वी ने सोशल मीडिया पर बहनों से राखी बंधवाते हुए फोटो शेयर किया। अपनी बड़ी बहन और राज्य सभा सदस्य मीसा भारती से पैर छूकर आशीर्वाद लेते हुए भी दिख रहे हैं। एक फोटो में तेजस्वी यादव की पत्नी राजश्री यादव भी अपनी ननदों के साथ दिख रही हैं।