पीएम नरेंद्र मोदी कल करेंगे अमृता हॉस्पिटल का लोकार्पण , थ्री लेयर चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था , कई सड़कें , स्कूल व बाज़ार रहेंगे बंद

Spread the love

फरीदाबाद, 23 अगस्त ( धमीजा) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को फरीदाबाद में अमृता अस्पताल का लोकार्पण करेंगे। राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय व मुख्यमंत्री मनोहर लाल फरीदाबाद पहुंचने पर प्रधानमंत्री का स्वागत करेंगे। प्रधानमंत्री के आगमन की तैयारियों का मंगलवार को मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डा. अमित कुमार अग्रवाल ने जायजा लिया। प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर ग्रेटर फरीदाबाद स्थित सेक्टर 88 में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए है। साथ ही कार्यक्रम स्थल पर आस-पास के क्षेत्र में हरियाणा सरकार ने मेजबानी के लिए खास इंतजाम किए हैं। चाक चौबंद  सुरक्षा व्यवस्था की गयी है , चप्पे चप्पे पर पुलिस तैनात है। हॉस्पिटल की और जाने वाली सड़कों की बैरीगेडिंग  की गयी है। आज रात से ही वह रास्ते बंद कर दिए जाएंगे।  केवल उन्ही वाहनों को जाने दिया जाएगा , जिनके पास कार्यक्रम स्थल पर जाने के लिए पास होंगे। अस्पताल परिसर को प्रधानमंत्री की सुरक्षा में लगी एजेंसी एसपीजी ने अपने कब्ज़े में ले लिया है। उस क्षेत्र में पड़ने वाले स्कूलों व शिक्षण संस्थानों की कल की छुट्टी कर दी गई है।  वहाँ की दुकानें , बाजार आदि बंद रहेंगे।  प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का हेलीकॉप्टर अस्पताल परिसर में ही उतरेगा। जहां प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल एवं राज्यपाल बंडारूदतात्रेय करेंगे।
मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डा.अमित कुमार अग्रवाल ने मंगलवार को कार्यक्रम स्थल का जायजा लेते हुए सबसे पहले हैलीपैड को देखा और उसके बाद मुख्य मंच, प्रेस गैलरी, मीडिया सेंटर, वीवीआईपी व वीआईपी क्षेत्र सहित अस्पताल परिसर में जाकर उद्घाटन समारोह की तैयारियों का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में आने वाले लोगों के लिए पानी सहित अन्य सेवाएं प्रभावी रूप से मिलें इसके लिए संबंधित अधिकारी व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने मीडिया सेंटर व प्रैस गैलरी का निरीक्षण करते हुए कहा कि मीडिया को उनके सहयोग के लिए विभागीय स्तर पर पर्याप्त व्यवस्थाएं करवाई जाएं। अमृता अस्पताल व जिला प्रशासन की ओर से कार्यक्रम स्थल पर तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। फरीदाबाद का अमृता अस्पताल स्वास्थ्य सेवाओं के रूप में बुधवार को आमजन को समर्पित होगा और इस उद्घाटन समारोह को भव्य ढंग से मनाने के लिए पूरी तैयारी की जा रही है।
मंगलवार को तिगांव से विधायक राजेश नागर और मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव व सूचनाए जनसंपर्क एवं भाषा विभाग हरियाणा के महानिदेशक डा.अमित कुमार अग्रवाल के साथ फरीदाबाद मंडल आयुक्त संजय जून, डीसी यशपाल यादव, अतिरिक्त आयुक्त नगर निगम अपराजिता, सूचना, जनसपंर्क एवं भाषा विभाग के अतिरिक्त निदेशक डा.कुलदीप सैनी सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

समारोह स्थल पर बनाया हाईटैक मीडिया सेंटर
दूरदर्शन के माध्यम से इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण भी किया जाएगा। इसके लिए दस कैमरों की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा कार्यक्रम को कवरेज करने के लिए आने वाले पत्रकारों के लिए प्रेस गैलरी में 250 से भी अधिक मीडिया कर्मियों के बैठने की व्यवस्था है और इलैक्ट्रोनिक राईजर सहित इंटरनेट की व्यवस्था भी समारोह स्थल पर की गई है। पत्रकारों के लिए बनाए गए हाइटैक मीडिया सेंटर में 60 कंप्यूटर लगाए गए हैं और वहीं पर उनके बैठने व जलपान की भी व्यवस्था की गई है। मीडिया सेंटर में हाइस्पीड इंटरनेट की व्यवस्था करते हुए सहयोग किया जा रहा है। मीडिया के प्रवेश के लिए गेट नंबर चार निर्धारित किया गया है।
ऐसा होगा अमृता अस्पताल 
फरीदाबाद का अमृता अस्पताल भारत में निजी क्षेत्र का सबसे बड़ा अस्पताल होगा, जो उत्तर और उत्तर पूर्वी भारत के लोगों को स्वास्थ्य लाभ प्रदान करने का काम करेगा। अस्पताल चार हजार लोगों को प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रोजगार देगा ।  अस्पताल के पूरी क्षमता में चालू होने पर 10 हजार कर्मचारियों और 800 चिकित्सकों की टीम होगी।  अस्पताल में 534 आईसीयू बेड हैं जिनमें आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है।
करीब 133 एकड़ में बन रहे 14 मंजिली अमृता अस्पताल एक करोड़ वर्ग फुट से अधिक निर्मित इमारत में संचालित होगा। उन्होंने बताया कि अमृता अस्पताल में मदर एंड चाइल्ड केयर, ऑन्कोलॉजी, कार्डियेक, न्यूरो, गैस्ट्रो, रीनल, बोन डिजीज, ट्रामा, ट्रांसप्लांट सहित 81 तरह की स्पेशियलिटीज की स्थापना की गई है। इसके अलावा संक्रामक रोग के लिए देश का सबसे बड़ा विभाग बनाया गया है। उन्होंने बताया कि अस्पताल को पेपरलेस बनाया गया है।

 64 ऑपरेशन थिएटर व विदेशों से आये डॉक्टर हैं

अस्पताल में  81 तरह के स्पेशियलिटी विभाग हैं और 64 आधुनिक तकनीक से लेस ऑपरेशन थियेटर भी हैं। अस्पताल में 250 डॉक्टर नियुक्त किए गए हैं जो स्वेच्छा से विदेशों से भारत आए हैं। अस्पताल ने हावर्ड, स्टेनफोर्ड जैसी कई बड़ी यूनिवर्सिटी से करार भी किया है. सभी मिलकर कई नई रिसर्च करने वाले हैं। अस्पताल में तीन हज़ार वर्ग मीटर में रिसर्च ब्लॉक भी है।

बताया जा रहा है कि अस्पताल में नर्सिंग, पैरामेडिकल और मेडिकल के 28 कोर्सो की सुविधा भी दी जा रही है। अस्पताल में स्टाफ और छात्रों के लिए आवास का निर्माण कराया जा रहा है। अस्पताल में वायुयान के जरिये भी मरीज को एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जा सकता है।

पीएम के लिए ज़बरदस्त सुरक्षा व्यस्था , कई सड़कें बंद , ट्रिपल लेयर सुरक्षा व्यवस्था

पीएम के आगमन को लेकर  सुरक्षा व्यवस्था चौक चौबंद कर दी गई है। शहर में धारा 144 लागू है जिसके चलते शहर में किसी भी प्रकार से ड्रोन उड़ाने पर पूर्णतरू पाबंदी रहेगी।
प्रधानमंत्री के दौरे के मद्देनजर चार सडक़ों सेक्टर-28, 19 डिवाइडिंग, मास्टर रोड, आगरा नहर वाली सडक़ और मंझावली रोड को सुबह आठ बजे से दोपहर दो बजे तक बंद रखा जाएगा। पुलिस अधिकारियों ने आज डीजीपी हरियाणा पी.के. अग्रवाल के निर्देशन में आज प्रधानमंत्री आगमन को लेकर फाईनल रिहर्सल भी कर ली गई है। सभी सडक़ों पर नाकाबंदी कर दी गई। अमृता अस्पताल की तरफ  जाने वाले सभी रास्तों पर नाकाबंदी की गई है। पुलिस लाईन व एशियन अस्पताल को जिला प्रशासन ने सेफ हाऊस बनाया हुआ है। वहीं एसपीजी ने कई दिनों से अमृता अस्पताल व आसपास के क्षेत्र में डेरा डाला हुआ है। फाईनल रिहर्सल के बाद एसपीजी पूरे क्षेत्र को अपने नियंत्रण में ले लिया है। जिसके बाद ट्रिपल लेयर सुरक्षा पूरे क्षेत्र में लागू करदी गई है तथा फाइव लेयर बेरिकेडिंग भी कर दी गई है।
प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए पर्याप्त सुरक्षा बल लगाया गया है इसके अलावा डॉक्टर्स की टीम, एंबुलेंस और फायर ब्रिगेड की गाडिय़ां तैनात रहेंगी। हाई सेंसिटिव नाके लगाए गए हैं। प्रधानमंत्री के आगमन से पहले फरीदाबाद में धर्मशाला, होटल, रेस्टोरेंट, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन इत्यादि स्थानों पर आ रहे व्यक्तियों की चेकिंग जा रही है। घरेलू सहायिका या कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों की पुलिस वेरिफिकेशन के निर्देश पहले ही दे दिए गए थे। कार्यक्रम में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को चेक किया जाएगा।
कार्यक्रम में आने वाले व्यक्ति अपने साथ किसी भी प्रकार की ज्वलनशील वस्तु, बीड़ी, सिगरेट, लाइटर, चार्जर, पावर बैंक अपने साथ नहीं ला सकते। आमजन को पूरी चेकिंग के बाद ही अंदर जाने दिया जाएगा। अनाधिकृत व्यक्तियों या वाहनों की एंट्री पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगी। वीआइपीज की एंट्री अलग गेट से रहेगी, स्पेशल इनवाइटी व मीडिया की अलग से एंट्री होगी और पब्लिक की एंट्री अलग गेट से होगी।
तैनात हुए तीन हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा में कोई कमी ना रहे इसके लिए दूसरे जिलों से पुलिस फोर्स फरीदाबाद में अपना मोर्चा संभाल चुकी है। प्रधानमंत्री की सुरक्षा में करीब तीन हजार से अधिक पुलिसकर्मी तैनात होंगे। इनमें आठ सौ पुलिसकर्मी फरीदाबाद जिले से हैं, वहीं 22 सौ पुलिसकर्मी दूसरे जिलों से पहुंचे थे। इनमें 70 इंस्पेक्टर भी शामिल हैं। कार्यक्रम स्थल के प्रवेश व निकास द्वारों पर बेरिकेडिंग फाईव लेयर की कर दी गई है। प्रधानमंत्री का काफिला गुजरने के दौरान मुख्य व वैकल्पिक मार्ग पूरी तरह से सील रहेंगे। पुलिस के जवान आसपास के गांव की छतों तथा निर्माणाधीन भवनों पर भी तैनात किए दिए गए हैं। रूट से लगते पेट्रोल पंप व शराब के ठेकों को भी बंद करवा दिया गया है।
हिस्ट्रीशीटरों से हो रही पूछताछ
सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस सभी थाना इलाके के हिस्ट्रीशीटरों से पूछताछ कर रही है। दस साल पहले भी जो किसी अपराध में शामिल रहे हैं उनसे पूछताछ की जा रही है कि वह फिलहाल क्या कर रहे हैं। डीसीपी क्राइम मुकेश मल्होत्रा ने सभी क्राइम ब्रांचों से हाल में ही जेल से आए अपराधियों पर नजर रखने व पूछताछ करने के निर्देश दिए हैं। पुलिस जेल में अपराधियों से मुलाकात करने जाने वालों पर भी नजर बनाए हुए है। पुलिस ने प्रधानमंत्री के रूट के साथ ही एक वैकल्पिक मार्ग भी बनाया है ताकि किसी तरह की कोई परेशानी आने पर उसका इस्तेमाल किया जा सके। इसके साथ ही शहर में लाइसेंसी हथियार रखने वालों पर भी पुलिस की खास नजर है। गुप्तचर विभाग की सूचना के आधार पर कुछ लोगों को नजरबंद भी किया गया है। ये ऐसे लोग हैं जो प्रधानमंत्री आगमन पर कोई प्रदर्शन कर सकते हैं।