सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर नोएडा की 32 मंज़िला ट्विन टावर्स कल होंगी ध्वस्त , कॉउंट डाउन शुरु , आसपास के रास्ते रहेंगे बंद

Spread the love

नॉएडा , 27 अगस्त ( धमीजा ) : नोएडा में रविवार दोपहर 2:30 बजे सुपरटेक बिल्डर के ट्विन टावर गिरा दिए जाएंगे। इसमें पहली इमारत 32 तो दूसरी 29 मंजिला है। इन गगनचुंबी इमारतों के ध्वस्त होने में महज 12 सेकेंड लगेंगे, लेकिन इसके बाद धूल का जो गुबार उठेगा उसको लेकर हर कोई चिंतित है। खासतौर पर ट्विन टावर के एक से दो किलोमीटर के दायरे में रहने वाले लोग ज्यादा परेशान हैं। डॉक्टर्स भी अब ऐसे लोगों पर स्टडी करने में जुट गए हैं। डॉक्टर्स ये पता लगाने की कोशिश करेंगे की अचानक प्रदूषण का स्तर बढ़ने से लोगों की सेहत पर कितना असर पड़ेगा? क्या-क्या दिक्कतें आएंगी?

ये सब जानने के लिए मैक्स हॉस्पिटल के डॉ. आशीष जैन ने आज ट्विन टावर के बगल में स्थित सिल्वर सिटी और पर्श्वानाथ प्रेस्टीज में लोगों की सेहत की जांच की।

काउंटडाउन शुरू हो चुका है। 28 अगस्त 2022 को घड़ी में दोपहर के 2.30 बजते ही एक बटन दबेगा। अगले 12 सेकेंड में कुछ धमाके होंगे और नोएडा में तनकर खड़े सुपरटेक ट्विन टावर्स जमींदोज हो जाएंगे। ये पढ़ने में भले रोमांचक लग रहा हो, लेकिन है बहुत मुश्किल, क्योंकि…

  • ट्विन टावर्स से महज 9 मीटर दूरी पर हाउसिंग सोसाइटी है, जिसमें 660 परिवार रहते हैं।
  • ट्विन टावर्स से महज 19 मीटर दूरी पर जमीन के नीचे गैस पाइपलाइन जाती है।
  • भारत में इससे पहले इम्प्लोसिव टेक्नीक से इतना बड़ा डिमोलिशन कभी नहीं
  • धूल का गुबार, जिसके कण 4 किमी. तक फैल सकते हैं
  • 60 हजार टन कंक्रीट और लोहे का मलबा
  • एक सबक कि कानून से ऊपर कुछ भी नहीं है
    • इससे ठीक 15 मिनट पहले एक्सप्रेसवे पर डायवर्जन व्यवस्था लागू कर दी जाएगी। नोएडा एक्सप्रेसवे पर ब्लास्ट के बाद धूल हटने तक वाहनों की आवाजाही पूर्ण रूप से बंद रहेगी। ट्रैफिक पुलिस ने शुक्रवार शाम इसके लिए डायवर्जन प्लान जारी कर दिया है। लोग गूगल मैप का भी इस्तेमाल कर सकेंगे। इस पर ट्विन टावर व एक्सप्रेसवे पर डायवर्जन की व्यवस्था को अपडेट किया गया है। ट्विन टावर को जोड़ने वाले सभी मार्गों पर डायवर्जन लागू कर दिया गया है।

      रविवार सुबह सात बजे से इन मार्गों पर और सख्ती बरती जाएगी। सात बजे के बाद ट्विन टावर की तरफ किसी को नहीं जाने दिया जाएगा। हालांकि, टावर के आसपास की दो सोसाइटी एटीएस विलेज व एमराल्ड कोर्ट में रहने वाले लोगों को बाहर आने की इजाजत होगी।