भयंकर सर्दी में गरमाया राजनैतिक पारा , हरियाणा में राहुल गाँधी की यात्रा के बाद अब अमित शाह करेंगे करनाल में रैली

Spread the love

फरीदाबाद , 11 जनवरी ( धमीजा ) : हरियाणा में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सूबे की सियासत को गर्माएंगे। चूंकि हरियाणा में राहुल गांधी ने भाजपा का गढ़ माने जाने वाली जीटी रोड बेल्ट में यात्रा निकाल कर साधने का प्रयास किया । राहुल की यात्रा से पार्टी को हुए डैमेज को कंट्रोल करने के लिए हरियाणा बीजेपी ने शाह के इस कार्यक्रम का प्लान बनाया है।

हरियाणा दौरे के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह करनाल में एक बड़ी रैली करेंगे। इसकी तैयारियां प्रदेश स्तर पर पार्टी ने शुरू कर दी हैं। सूत्रों के अनुसार इस रैली से पहले शाह पार्टी सांसदों, मंत्रियों और विधायकों के साथ मंथन भी करेंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर भी मौजूद रहेंगे। पार्टी पदाधिकारियों से केंद्रीय मंत्री अलग से बैठक करेंगे।

शाह के हरियाणा में इस दौरे का मकसद 2024 में होने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव हैं। इस दौरे में शाह हरियाणा में बीजेपी के मजबूत संगठन को लेकर मंथन करेंगे। साथ ही केंद्र और राज्य सरकार की नीतियों के व्यापक प्रचार प्रसार पर काम करेंगे और कार्यकर्ताओं को विजय का मंत्र भी देंगे।

 शाह की रैली पर प्रदेश भाजपा चुप 
केंद्रीय मंत्री अमित शाह का यह दौरा अक्टूबर में प्रस्तावित था, लेकिन पंचायत चुनाव और आदमपुर चुनाव में लगी आचार संहिता के कारण यह कार्यक्रम नहीं हो पाया। हालांकि इस पूरे कार्यक्रम को लेकर अभी हरियाणा बीजेपी के नेता कुछ भी कहने से बच रहे हैं। हालांकि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ओपी धनखड़ ने भी ऐसी किसी रैली का आयोजन होने की बात पर चुप्पी साध रखी है ।

राहुल का फोकस रहा जीटी रोड बेल्ट पर 
हरियाणा में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा खत्म हो चुकी है। दो चरण में हुई यात्रा के दौरान राहुल गांधी 255 किलोमीटर पैदल चले। इनमें उन्होंने 7 जिले कवर किए। पहले चरण में नूंह, फरीदाबाद और गुरुग्राम को कवर किया। दूसरे चरण में राहुल का फोकस जीटी रोड बेल्ट पर रहा। उन्होंने सीएम मनोहर और गृह मंत्री अनिल विज के जिलों में भी यात्रा निकाली। पानीपत, करनाल, कुरुक्षेत्र और अंबाला में राहुल गांधी कुल 8 दिन पैदल चले।