भाजपा के कद्दावर नेता व पूर्व मंत्री रामबिलास के पुत्र पर करोड़ों की धोखाधड़ी का आरोप , जांच विजिलेंस के सुपुर्द

Spread the love

फरीदाबाद , 23 जनवरी ( धमीजा ) : हरियाणा भाजपा के कद्दावर नेता व पूर्व शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा के बेटे गौतम शर्मा पर एक कंस्ट्रक्शन कंपनी ने करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। मामला मुख्यमंत्री के दरबार में पहुंचा तो जांच विजिलेंस को सौंप दी गई है। हालांकि बताया जा रहा है कि मामले में समझौता भी कर लिया गया है । वहीं गौतम शर्मा ने कहा कि इस तरह की कोई बात नहीं है। यह सिर्फ पार्टनर्स का आपसी विवाद था। राजनैतिक परिवार  होने के कारण मामले को तूल दिया जा रहा है ,

मुख्यमंत्री को दी शिकायत, मामला निबटाने के एवज़ में करोड़ों रूपया व हिस्सेदारी ली 

दरअसल हरदीप सिंह व वेदप्रकाश ने करीब 20 दिन पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल को पत्र लिखकर आरोप लगाया था कि उनकी मारकंडेश्वर कंस्ट्रक्शन कंपनी के नाम से मारकंडा नदी का टेंडर एरिया का केस हरियाणा सरकार में विचाराधीन है।

वर्ष 2018 में उसकी निशानदेही कराई गई, जिसमें एरिया कम पाया गया और इस फर्म में हम 3-4 चार पार्टनर है। इसके बाद गौतम शर्मा ने हमसे बात की और कहा कि मैं आपका काम करवा दूंगा, जिसकी एवज में आपने मुझे उपरोक्त फर्म में 40 प्रतिशत का हिस्सेदार बनाना होगा।

दोनों ने शिकायत में आरोप लगाया कि गौतम शर्मा ने कहा कि वह इस काम को जल्दी से जल्दी करवा देगा। गौतम शर्मा ने हमसे 1.60 करोड़ नकद ले लिए। वहीं हमारे साथ फर्म में 40 प्रतिशत का पार्टनर बन गया। हमसे एक पार्टनरशिप डीड अपना हिस्सा डलवाकर लिखवा ली।

उन्होंने आरोप लगाया गया कि उपरोक्त गौतम शर्मा ने आज तक न तो हमारा काम करवाया और ना ही हमारी ली हुई रकम वापस कर रहा है। साथ ही कहा कि पूर्व मंत्री राम बिलास शर्मा के संज्ञान में है।

सीएम को शिकायत के बाद हुआ समझौता
इस मामले में शिकायत करने वाले वेदप्रकाश ने पत्रकारों से कहा कि यह मामला कई दिन पुराना है। हमने शिकायत की थी। इसकी जांच विजिलेंस को दी गई। लेकिन दो दिन पहले हमारा समझौता गया। हमें पैसे भी वापस मिल गए हैं।

complaint to cm.jpg

जो फैलाया गया, वो फेक है; गौतम शर्मा
इस मामले में पत्रकारों से बातचीत में पूर्व मंत्री के बेटे गौतम शर्मा ने खुद पर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया और कहा कि जो फैलाया जा रहा है, वो पूरी तरह फेक है। असल में इसमें काफी सारे पार्टनर है, उनमें एक वह खुद भी है। कारोबार में शेयर को लेकर पार्टनर के बीच कुछ विवाद था।

क्योंकि में फेम वाला आदमी हूं, तो उन्हें लगा कि मैं सभी पार्टनर को इकट्‌ठा कर सकता हूं। इसलिए मुझे कहा गया और मैंने सभी पार्टनर को इकट्‌ठा भी किया। जैसा फैलाया जा रहा है, वैसा कुछ नहीं है। जब उनसे पूछा गया कि आप पर पैसे लेने और अब वापस लौटाने का आरोप है, तो गौतम ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। यह सिर्फ पार्टनर्स का शेयर को लेकर छोटा-मोटा विवाद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *