किसानों का भारत बंद: पंजाब और हिमाचल में सड़कें जाम, चंडीगढ़ में कांग्रेसियों ने काटा बवाल , हरियाणा में रणदीप सुरजेवाला का घेराव

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दिल्ली , 8  दिसंबर।  कृषि कानूनों के विरोध में भारत बंद के आह्वान का पंजाब और हरियाणा में खासा असर देखने को मिला। किसान संगठनों ने सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक सड़कें जाम करने का ऐलान कर रखा था। मंडियां भी बंद रहीं, वहीं सरकारी कार्यालयों में भी कामकाज प्रभावित रहा। पंजाब के करीब 50 हजार कर्मचारी अवकाश पर चले गए थे। लुधियाना, कैथल और फतेहाबाद समेत कई जगह हाईवे जाम रहे। साथ ही हिमाचल प्रदेश में भी आंदोलन को समर्थन मिला।

देखिये क्या हैं वो कृषि कानून जिसे लेकर आंदोलन कर रहे हैं देश भर के किसान

उधर, हरियाणा में भी बंद को राजनैतिक दलों और कर्मचारी संगठनों का समर्थन मिल रहा है। हां भाजपा और जजपा ने खुद को इससे दूर रखा है। हालांकि दूध की सप्लाई, पेट्रोल पंप, शराब के ठेके वगैरह खुले नजर आ रहे हैं। कहां कैसी रही स्थिति…

  • # फरीदाबाद में किसान आंदोलन का समर्थन कर रहे बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान संजीव चौधरी को पुलिस ने हिरासत में लिया। वहीं कैथल में कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला को आंदोलनरत किसानों का भारी विरोध झेलना पड़ा। बड़ी मुश्किल से बचाते हुए पुलिस ने उन्हें अपनी गाड़ी में बिठाकर बाहर निकाला।
  • # चंडीगढ़ में भी किसानों का समर्थन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय का घेराव करने की कोशिश की। पुलिस ने उन्हें रोकने के लिए बैरिकेड लगाए, लेकिन कार्यकर्ताओं ने उन्हें तोड़कर आगे बढ़ने की कोशिश की। कार्रवाई करते हुए पुलिस ने वाटर कैनन से उन्हें खदेड़ दिया। वहीं हाईवे पर भी जाम के हालात बने रहे।
  • # करनाल जिले के गांव पाढा में CM मनोहर लाल का विरोध हुआ। यहां आज एक कार्यक्रम था, मगर देर रात लोगों ने यहां बनाए गए हेलीपैड को उखाड़ दिया। आयोजन के लिए रखी गई कुर्सियों को हटा दिया।
    • # पानीपत की सुबह पर भारत बंद का असर नहीं दिखा। पेट्रोलियम वेलफेयर एसोसिएशन ने सुबह 8 बजे से प्राइवेट पेट्रोल पंप बंद रखने का दावा किया था, लेकिन 9 बजे तक GT रोड और अंदर के पेट्रोल पंप खुले रहे। मेडिकल स्टोर और दूध-ब्रेड की दुकानों के साथ शराब के ठेके भी खुले मिले। रोडवेज स्टैंड से दिल्ली बहादुरगढ़ के साथ अन्य स्थानों के लिए बस सेवा जारी रही। उद्योग भी चालू रहे। सड़कों पर रोज की तरह कामगारों की भीड़ नजर आई।
    • # हांसी में शहर के अंदर से गुजरने वाले हाईवे पर कांग्रेसियों व विभिन्न संगठनों द्वारा हाईवे को बंद कर दिया गया।
    • # पलवल मार्केट में किसान नेता दुकानदारों से 11 से 3 बजे तक दुकान बंद करने के लिए अपील करते नजर आए। सुबह बाजार पूरी तरह खुला दिखाई दिया, लेकिन 11 बजे कुछ दुकानदारों ने अपनी दुकानों को बंद कर दिया और किसानों का जुलूस जैसे ही बाजार से गुजरा तो दुकानों के शटर नीचे दिखाई दिए। नेशनल हाईवे के जाम होने से केजीपी व केएमपी पर वाहनों की कतारें लग जाने से पूरा शहर जाम दिखाई दिया।
      • # पंजाब की बात करें तो जालंधर के ज्यादातर जिम नहीं खुले। इसके अलावा सभी मेन बाजार बंद पड़े हुए हैं। सड़कों पर आवाजाही भी कम ही दिख रही थी। मकसूदां स्थित सब्जी मंडी भी बंद है और उसके गेट पर फ्रूट मंडी आढ़ती एसोसिएशन ने किसानों के समर्थन में ट्रैक्टर लेकर प्रदर्शन भी किया गया।
      • # बटाला में शहर के नेहरू गेट इलाके में दवाइयों की दुकानें बंद रही, लेकिन इसके सामने शराब का ठेका सुबह का खुला हुआ था। चकरी बाजार, सिटी रोड का बाजार भी पूरा बंद रहा और लोग अपनी दुकानों के बाहर खड़े देखे गए। सिनेमा रोड का पूरा बाजार भी बंद पड़ा था। साथ ही सुक्खा सिंह महताब सिंह चौक पर DSP गुरदीप सिंह पुलिस बल को निर्देश देते नजर आए।
      • # संगरूर के भवानीगढ़ में सभी बाज़ार और कारोबार पूरी तरह बंद नज़र आए। मेन बाज़ार में स्थित चार खंभा मार्केट के दुकानदारों ने दुकानें बंद करके केंद्र सरकार विरुद्ध नारे लगाए।
      • # कपूरथला में भी पुलिस ने रास्ते बंद कर दिए, वहीं किसान नेता लोगों से बाजार बंद करने निकले तो इसके बाद दुकानें बंद की गई।
      • # हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में जिला मुख्यालय पर सीटू और किसान सभा में प्रदर्शन किया। दोनों संगठनों के नेता और कार्यकर्ता कार्यालय से रैली के रूप में ढालपुर चौक पहुंचे। प्रदर्शनकारियों ने भारत सरकार को चेतावनी दी कि इन काले कानूनों को वापस ले, नहीं तो ये आंदोलन और बड़ा रूप धारण कर लेगा। इसके अलावा प्रदेश में कई जगह किसानों के समर्थन में रैलियां निकाली गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *