यमुनानगर : हरियाणा में किसानो के विरोध के चलते भाजपा विधायक को प्रशिक्षण कार्यक्रम से पिछले गेट से भागना पड़ा  

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यमुनानगर , 28  दिसंबर। कृषि कानूनों के विरोध और किसान आंदोलन के समर्थन में हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी के कार्यक्रमों का विरोध जारी है। सोमवार को हरियाणा के यमुनानगर के साढोरा में चल रहे भाजपा के मंडल स्तरीय प्रशिक्षण शिविर में किसानों ने खलल डाल दिया। पुलिस ने किसानों को रोकने का प्रयास किया तो किसानों ने पुलिस के बैरिकेड्स तोड़ दिए। किसानों के हंगामे के चलते भारतीय जनता पार्टी ने शिविर रद्द कर दिया।
हरियाणा के यमुनानगर के साढोरा कस्बे में  सोमवार को लक्ष्मी नारायण मंदिर में भाजपा मंडल का कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर चल रहा था। सुबह ही भाजपा कार्यकर्ता शिविर में पहुंचने शुरू हो गए थे। 100 से ज्यादा कार्यकर्ता और पदाधिकारी प्रशिक्षण शिविर में पहुंचे थ
कार्यक्रम में यमुनानगर के विधायक घनश्याम दास अरोड़ा और जिला अध्यक्ष राजेश सपरा भी थे। वहीं भारतीय जनता पार्टी के कार्यक्रम की जानकारी मिलते ही किसान नेता जिला अध्यक्ष सुभाष गुर्जर के नेतृत्व में काफी किसान मंदिर के बाहर पहुंचे और सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।
पिछले कुछ दिनों से भाजपा के कार्यक्रमों के हो रहे विरोध को देखते हुए मौके पर पुलिस ने बैरिकेड आदि लगाए हुए थे। विरोध करने पहुंचे किसानों को देख मौके पर उपस्थित डीएसपी आशीष चौधरी ने उन्हें समझाने का प्रयास किया लेकिन किसान नहीं माने और पुलिस के बैरिकेड तोड़कर आगे बढ़ने लगे।किसानों को रूकता न देखकर पुलिस ने विधायक घनश्याम दास अरोड़ा और जिला अध्यक्ष राजेश सपरा को पुलिस सुरक्षा के बीच दूसरे गेट से बाहर निकाला और किसानों को अगले बैरिकेड पर रोक दिया। पुलिस बल ने किसानों को मंदिर के अन्दर नहीं जाने दिया। वहीं विधायक के वहां से बेरंग चले जाने की खबर सुनकर ही किसान शांत हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *