“उड़न सिख” मिल्खा सिंह की हालत स्थिर , देश के करोड़ों लोग दुआ कर रहे हैं उनके स्वस्थ होने की

Spread the love

फरीदाबाद , 5 जून : देश के जाने माने धावक “उड़न सिख” मिल्खा सिंह को लेकर आज सुबह से ही अफवाहें उड़ती रही , लेकिन देश भर के लोगो की प्रार्थना और कामना से वह अस्पताल में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। चंडीगढ़ के पीजीआई  अस्पताल में डाक्टरों की टीम उनके इलाज में जुटी है। प्राप्त सूचना के अनुसार अस्पताल के आईसीयू में वह ऑक्सीजन स्पोर्ट पर हैं।  देश के करोड़ो लोगों की दुआएं उनके साथ हैं।

ज्ञात रहे की कोविड पॉजिटिव होने की वजह से उनकी तबीयत बिगड़ गयी थी और दो दिन पूर्व उन्हें चंडीगढ़ के पीजीआई हॉस्पिटल में किया गया था, जहां उनका इलाज चल रहा  है।  ‘फ्लाइंग सिख’ के नाम से मशहूर लीजेंड एथलीट मिल्खा सिंह की हालत में सुधार आया है. एक मेडिकल बुलेटिन में , पीजीआई चंडीगढ़ के डायरेक्टर डॉक्टर जगत राम ने ये जानकारी दी. उन्होंने कहा कि पूर्व भारतीय स्प्रिंटर मिल्खा सिंह की हालथ में सुधार हुआ है. उनके सभी पैरामीटर स्थिर हैं और मेडिकल टीम लगातार उनकी निगरानी कर रही है. मिल्खा सिंह का ऑक्सीजन लेवल गिरने के बाद गुरुवार तीन जून को उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. उन्हें बीस मई को कोविड-19 की पुष्टि हुई थी.

  इलाज के लिए 91 साल के मिल्खा सिंह को पहले मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती किया गया था लेकिन गुरूवार को उन्हें चंडीगढ के पीजीआईएमईआर में भर्ती किया गया. साल 1958 और 1962 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक विजेता मिल्खा सिंह को कोविड निमोनिया की शिकायत थी. बाद में उन्हें ऑक्सीजन लेवल गिरने की भी शिकायत हुई.
 1958 टोक्यो एशियाई खेलों में 200 मीटर और 400 मीटर में स्वर्ण पदक जीतने वाले मिल्खा 1962 जकार्ता एशियाई खेलों में भी 400 मीटर और चार गुणा 400 मीटर रिले में स्वर्ण पदक अपने नाम कर चुके हैं.