सीबीआई ने 5 लाख की रिश्वत मामले में फरीदाबाद से nhpc के चीफ जनरल मैनेजर सहित तीन को किया गिरफ्तार

Spread the love
फरीदाबाद , 14 जुलाई ( धमीजा ) : पांच लाख रुपये रिश्वत मामले में सीबीआई ने फरीदाबाद में छापा मारकर एनएचपीसी के चीफ जनरल मैनेजर सहित लोगों को गिरफ्तार किया है।  सीबीआई ने इस मामले में रिश्वत देने वाले गैमन सीएमसी के सीनियर जनरल मैनेजर ( प्रोजेक्ट ) व एक अन्य को भी गिरफ्तार किया है।
सीबी आई प्रवक्ता के अनुसार यह मामला हिमाचल प्रदेश में पार्वती हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्रोजेक्‍ट के लंबित बिलों से जुड़ा है। मामले में नेशनल हाइड्रो इलेक्‍ट्र‍िक पावर कॉरपोरेशन (NHPC) के सीजीएम (फाइनेंस) हरजीत सिंह पुरी और गैमन सीएमसी ज्वाइंट वेंचर के सीनियर जनरल मैनेजर (प्रोजेक्ट) सुनील मेंदीरत्ता और एक अन्य आरोपी संचित सैनी को गिरफ्तार किया गया है। कंपनी के कुल्लू (हिमाचल प्रदेश) के पास एनएचपीसी के पार्वती प्रोजेक्‍ट में चल रहे काम के लिए करीब 5.26 करोड़ रुपये से अधिक के बिल लंबित थे।
सीबीआई ने आरोप लगाया है कि गैमन सीएमसी के सीनियर जनरल मैनेजर मेंदीरत्ता ने पुरी से पेमेंट की प्रक्रिया में तेजी लाने का अनुरोध किया। इसके लिए पुरी ने पांच लाख रुपये की रिश्वत मांगी। रिश्वत की जानकारी मिलने के बाद सीबीआई ने फरीदाबाद में छापा मारा। यहां पुरी को संचित सैनी के साथ गिरफ्तार किया गया। आरोप है कि सैनी रिश्वत देने के लिए के पांच लाख रुपए लेकर आया था । बाद में मेंदीरत्ता को भी गिरफ्तार कर लिया गया।
सीबीआई प्रवक्ता आरसी जोशी ने बताया कि फरीदाबाद तथा  कुल्लू (हिमाचल प्रदेश) और दिल्ली में तलाशी ली गई। इस क्रम में संपत्ति और वित्तीय लेनदेन से जुड़े दस्तावेज बरामद हुए। सभी गिरफ्तार आरोपियों को अदालत में पेश किया जाएगा।