देश में तेज़ी से फल फूल रहा है फेक नोटों का कारोबार , पकड़ी गई 43 करोड़ की फेक करेंसी

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली , 27 जुलाई : देश में जाली नोटों का कारोबार भी फलता-फूलता रहा है. हर साल पकड़े जा रहे करोड़ों रुपये के जाली नोट इस बात की तस्दीक करते हैं. जाली नोट न केवल आम लोगों के लिए परेशानी पैदा करता है, बल्कि सरकार और पुलिस के लिए भी इस पर रोक लगाना एक बड़ी चुनौती साबित होती है. आपको जानकर आश्चर्य हो सकता है कि दो साल के भीतर पुलिस ने देशभर में 43 करोड़ रुपये से भी ज्यादा के जाली नोट पकड़े हैं.

नोटों की संख्या की बात करे तो विभिन्न मूल्यवर्ग की करीब 5.44 लाख प्रतियां जब्त की गई हैं. इन मामलों में 2047 लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाइयां हुई हैं. यह जानकारी केंद्र सरकार ने मंगलवार को लोकसभा में उठाए गए प्रश्नों के उत्तर देते हुए ये जानकारियां सामने रखी है.

गृह मंत्रालय की ओर से बताया गया कि वर्ष 2018 में 2.57 लाख से ज्यादा जाली नोट पकड़े गए, जिनकी वैल्यू 17.95 करोड़ से भी ज्यादा (17,95,36,992) है. वहीं वर्ष 2019 में 25.39 करोड़ वैल्यू के 2.87 लाख से ज्यादा जाली नोट पकड़े गए.

गृह मंत्रालय ने दी नकली नोटों की जानकारी

नकली यानी जाली नोटों को लेकर केंद्र सरकार ने मंगलवार को संसद में कई अहम जानकारियां दी है. केरल के एर्नाकुलम से कांग्रेस सांसद हिबी ईडन ने गृह मंत्रालय से इस संबंध में 6 सवाल किए थे. जाली नोटों के चलन के खिलाफ सरकार ने क्या कदम उठाए हैं और क्या कर रही है, इसको लेकर भी सांसद ने सवाल पूछा. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने राष्ट्रीय अपरा​ध रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़ों के आधार पर इन सवालों के जवाब दिए हैं. केंद्रीय मंत्री ने इस संबंध में वर्ष 2018 और वर्ष 2019 के आंकड़ों को सामने रखा.

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने सदन में वर्ष 2018 और 2019 का आंकड़ा सामने रखा है, कारण कि एनसीआरबी के पास अभी ताजा आंकड़े उपलब्ध नहीं हैं. हालांकि हम आपको बता दें कि केंद्रीय बैंक आरबीआई ने इसी साल मई में जाली नोटों के संबंध में ताजा आंकड़े (Reserve bank of India Annual Report 2021) पेश किए थे. आरबीआई ने बताया था कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में 5.45 करोड़ रुपये से ज्यादा के नकली नोट पकड़े गए हैं.

 कौन से और कितने जाली नोट पकड़े गए

करेंसी नोटों की संख्या कुल वैल्‍यू
10 रुपये के नोट 304 3,040 रुपये
20 रुपये के नोट 267 5,340 रुपये
50 रुपये के नोट 24,802 12,40,100 रुपये
100 रुपये के नोट 1,10,736 1,10,73,600 रुपये
200 रुपये के नोट  24,245 48,49,000 रुपये
500 रुपये के नोट 39,462 1,97,31,000 रुपये
1000 रुपये के नोट 2 2,000 रुपये
2000 रुपये के नोट 8,798 1,75,96,000 रुपये
(2,5 के 9 नोट Extra) कुल रकम  – 5,45,00,080  रुपये 

रिपोर्ट के मुताबिक, वित्तीय वर्ष 2020-21 में कुल 2,08,625 नकली नोट पकड़े गए. इनमें से 8107 नोट यानी करीब 4 फीसदी जाली नोट RBI ने पकड़े, जबकि अन्य बैंकों ने 2,00,518 नोट यानी करीब 96 फीसदी जाली नोट पकड़े. इन जाली नोटों में सबसे ज्यादा संख्या 100 रुपये के नोटों की है. आरबीआई और अन्य बैंकों ने इस वर्ष 100 रुपये के 1,10,736 नोट पकड़े.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *