जून से दिल्ली-NCR को मिलेगा एक और एयरपोर्ट, कई राज्यों के लाखों लोगों को मिलेगा लाभ

0
173

New Delhi: दिल्ली के साथ-साथ एनसीआर में रहने वाले लोगों को जून महीने में दूसरा हवाई अड्डा मिलने जा रहा है। जून महीने के अंत से गाजियाबाद में बने हिंडन हवाई अड्डे से उड़ानें शुरू हो जाएंगी। उड़े देश का आम नागरिक (UDAN) योजना के तहत अब यहां से आम लोग किफायत दामों पर फ्लाइट का सफर कर पाएंगे। बता दें UDAN की घोषणा अक्टूबर 2016 में की गई और इसकी शुरुआत अप्रैल 2017 में हुई थी। यह मोदी सरकार की प्रमुख योजनाओं में शामिल है।

यहां से जो उड़ानें होंगी वो केंद्र सरकार की उड़ान (UDAN) स्कीम के अंतगर्त आएंगी। इसके तहत प्रति घंटे उड़ान के लिए 2,500 रुपये का किराया लिया जाता है, लेकिन यह किराया 500 के दायरे के लिए होगा। बता दें कि जिन कंपनियों को यहां से उड़ान संचालन करने की अनुमति मिली है, उनमें इंडिगो एयरलाइन, हेरिटेज एविएशन, गोड़ावत एयरलाइन और टर्बो एयरलाइंस शामिल हैं।

जाहिर है हिंडन हवाई अड्डे से विमान सेवाएं शुरू हो जाने के बाद सबसे ज्यादा फायदा नोएडा, गाजियाबाद, पूर्वी दिल्ली के साथ मेरठ, बुलंदशहर के हजारों लोगों को भी मिलेगा। जो लोग दिल्ली से उड़ान सेवाओं का लाभ लेते थे, उन्हें यह काफी खर्चीला होगा, क्योंकि दिल्ली एयर पोर्ट आने-जाने का खर्च तो बचेगा ही, साथ ही समय भी कम बर्बाद होगा।

उत्तर प्रदेश के अयोध्या, उत्तराखंड के पिथौरागढ़, गुजरात के जामनगर, हिमाचल के शिमला, महाराष्ट्र के नासिक, कर्नाटक के हुबली, गुलबर्गा और केरल के कन्नूर के लिए यहां से शुरुआत में उड़ान मिल सकेंगी। हालांकि कुछ समय तक सफल संचालन के बाद गोरखपुर, इलाहाबाद, कोलकाता, लखनऊ आदि रूटों पर भी उड़ान शुरू की जाएंगीं। एयरपोर्ट के शुरू होने के बाद धीरे-धीरे एयरलाइंस अपनी फ्लाइट इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से हिंडन एयरपोर्ट टर्मिनल पर शिफ्ट करेंगी।

हिंडन एयरपोर्ट सिविल टर्मिनल से जून से उड़ान शुरू हो जाएंगी। इसकी सुरक्षा स्थानीय पुलिसकर्मियों के जिम्मे होगी। इसके लिए उन्हें विशेष प्रशिक्षण दिया गया है। जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने कहा कि तारीख अभी तय नहीं हुई है, जून के अंत तक उड़ान शुरू हो जाएंगी।

उन्होंने बताया कि टर्मिनल की सभी तैयारी पहले ही पूरी कर ली गई है। वहीं जनपद पुलिस ने टर्मिनल की सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए हैं। एसएसपी उपेंद्र कुमार अग्रवाल ने बताया कि टर्मिनल की सुरक्षा द्विस्तरीय होगी, जिसे आउटर कार्डन और इनर कार्डन में बांटा गया है। साहिबाबाद के सर्किल आफिसर को टर्मिनल का मुख्य सुरक्षा अधिकारी(सीएसओ) बनाया गया है।

अब आचार संहिता खत्म होते ही एयरपोर्ट से जून से उड़ानें शुरू करने का फैसला लिया गया है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के एक अधिकारी के मुताबिक रक्षा मंत्रलय ने क्षेत्रीय हवाई संपर्क योजना के तहत अभी स्टार एयर को ¨हडन टर्मिनल से उड़ान भरने की अनुमति दी है। नागर विमानन मंत्रलय की क्षेत्रीय हवाई संपर्क योजना‘उड़ान के तहत इंडिगो समेत कई एयरलाइन संचालकों ने ¨हडन से जोड़ने वाले मार्गों पर मंजूरी दी गई है। हालांकि रक्षा मंत्रालय ने अभी तक केवल स्टार एयर के संचालक घोडावत एंटरप्राइजेज के प्रस्ताव को मंजूरी दी है हैं।

इस टर्मिनल की सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा जनपद पुलिस को दिया गया है। एसएसपी ने बताया कि गाजियाबाद के अलावा नोएडा व मेरठ समेत रेंज के सभी जिलों से 70 पुलिसकर्मी चयनित हुए हैं। इनमें से 50 को एक हफ्ते का विशेष प्रशिक्षण दे दिया गया है। एजेंसी द्वारा एयरपोर्ट की सुरक्षा से जुड़े सभी पहलुओं के बारे में पुलिसकर्मियों को बताया गया है। सीओ साहिबाबाद के रूप में तैनात डॉ. राकेश कुमार मिश्र फिलहाल यहां की सुरक्षा के प्रमुख होंगे। पुलिसकर्मी अलग-अलग शिफ्ट में टर्मिनल को द्विस्तरीय सुरक्षा देंगे।

केंद्र सरकार की उड़ान (उड़े देश का आम नागरिक) योजना के तहत गाजियाबाद में 40 करोड़ रुपये की लागत से हिंडन एयरपोर्ट का निर्माण कराया गया है। आचार संहिता से ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 300 यात्रियों की क्षमता वाले इस टर्मिनल का उद्घाटन किया था। हालांकि उड़ान शुरू होने के बारे में फैसला नहीं हुआ था। उद्घाटन के तुरंत बाद एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अधिकारियों ने विभिन्न विमान कंपनियों प्रतिनिधियों के साथ टर्मिनल का निरीक्षण किया था। आचार संहिता समाप्त होते ही एयरपोर्ट अथॉरिटी एयरलाइंस कंपनियों को यहां से उड़ान भरने की अनुमति दे दी है। जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी का कहना है कि सभी तैयारी पहले ही पूरी की जा चुकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here