एक्स्ट्राकॉरपोरेल मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेशन सपोर्ट पर हैं अरुण जेटली, AIIMS जाकर आडवाणी ने जाना हाल

0
355

New Delhi: बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली का इलाज अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में जारी है. सूत्रों के मुताबिक, जेटली को एक्स्ट्राकॉर्पोरियल मेंब्रेन ऑक्सिजनेशन (ईसीएमओ) और इंट्रा-ऑर्टिक बलून पंप (आईएबीपी) सपोर्ट पर रखा गया है.

जेटली के स्वास्थ्य की जानकारी लेने वालों का भी सिलसिला जारी है. आज बीजेपी के वरिष्ठ नेता एलके आडवाणी, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और बीजेपी महासचिव अरुण सिंह ने एम्स जाकर जेटली के स्वास्थ्य की जानकारी ली.

पूर्व वित्त मंत्री को 9 अगस्त को सांस लेने में परेशानी होने और बेचैनी महसूस होने के बाद अस्पताल में भर्ती किया गया था. 10 अगस्त से लेकर अभी तक एम्स ने कोई मेडिकल बुलेटिन जारी नहीं किया है.

रविवार को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, स्मृति ईरानी, राम विलास पासवान, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी समेत कई नेताओं ने एम्स पहुंचकर स्वास्थ्य की जानकारी ली थी.

इसी साल मई में भी अरुण जेटली को एम्स में भर्ती कराया गया था. खराब स्वास्थ्य के कारण जेटली ने 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा. पिछले साल 14 मई को एम्स में उनका किडनी ट्रांसप्लांट किया गया था. उस समय रेल मंत्री पीयूष गोयल को उनके वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गयी थी.

पिछले साल अप्रैल की शुरुआत से ही वह कार्यालय नहीं आ रहे थे और वापस 23 अगस्त 2018 को वित्त मंत्रालय आए. लंबे समय तक डायबिटीज रहने से वजन बढ़ने के कारण सितंबर 2014 में उन्होंने बैरिएट्रिक सर्जरी करायी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here