भारत ने रद्द की PAK से विदेश मंत्री स्तर की मुलाकात, BSF जवान की हत्या बनी वजह

0
338
india

New Delhi:पाकिस्तान की ओर से विदेश मंत्री स्तर पर मुलाकात की पेशकश करने और भारत की ओर से पेशकश स्वीकार किए जाने के महज 24 घंटे के अंदर ही भारत ने इस मुलाकात को रद्द कर दिया है.

पाक की ओर से बातचीत करने का प्रस्ताव दिए जाने के बाद भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के बीच संयुक्त राष्ट्र महासभा के इतर न्यूयॉर्क में बातचीत की संभावना बनी थी, जो अब रद्द हो गई है.

भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से इस संबंध में जारी बयान में कहा गया है कि आतंकियों की ओर से पाकिस्तान की ओर से हालिया 2 वजहों से यह मुलाकात रद्द की गई है. पाकिस्तान की ओर से हमारे एक सुरक्षाकर्मी की नृशंस हत्या और पाक में जारी किए गए 20 डाक टिकटों जिसमें आतंकियों का महिमामंडन किया गया है. पाक प्रधानमंत्री इमरान खान के शुरुआती कार्यकाल की नीयत सामने आ गई है. इमरान खान का असली चेहरा सामने आया है.

इससे पहले सूत्रों के अनुसार, भारत की ओर से इस मुलाकात के रद्द करने के पीछे बीएसएफ के जवान की नृशंस हत्या को अहम कारण माना गया. भारत बीएसएफ जवान की नृशंस हत्या और आतंकियों की ओर से की जा रही पुलिसवालों की हत्या से बेहद नाराज है. साथ ही पाकिस्तान में 2 नेताओं की बीच बातचीत संबंधी पत्र को लीक करना भी बैठक रद्द किए जाने की अहम वजहों में माना जा रहा है.

एक दिन पहले गुरुवार को भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि पाकिस्तान के आग्रह पर विदेश स्तर की बातचीत करने के लिए तैयार हो गया है. भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच मुलाकात होगी, हालांकि मुलाकात की जगह, समय और तारीख अभी बाद में तय होगी.

पाकिस्तान पीएम की लिखी चिट्ठी पर भारतीय विदेश मंत्रालय से जारी बयान में कहा गया था कि दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच अभी सिर्फ मुलाकात होगी, बातचीत पर कोई सहमति नहीं हुई है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि बीएसएफ जवान की हत्या बर्बर करतूत है, सीमापार आंतकवाद पर हमारी नीतियों में कोई बदलाव नहीं आया है. बातचीत और आतंकवाद साथ-साथ नहीं चल सकते.

पाक प्रधानमंत्री इमरान खान के लेटर में यह प्रस्ताव दिया गया था कि इस माह के अंत में न्यूयॉर्क में आयोजित होने वाली संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के दौरान भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के बीच बातचीत हो. इमरान खान ने यह प्रस्ताव भी रखा था कि भारत जल्दी से जल्दी पाकिस्तान में सार्क सम्मेलन आयोजित कराने पर विचार करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here