राजकुमार यादव ने विधानसभा रांची से 2.30 लाख का ऋण लिया जबकि पति पत्नी करोड़ो की सम्पति के मालिक।

0
107


गिरिडीह ;- भाकपा (माले) विधायक राजकुमार यादव से अधिक धनवान हैं उनकी पत्नी ललिता
शपथपत्र में यादव ने अपनी चल व अचल संपत्ति का ब्योरा दिया है। इसके अनुसार राजकुमार यादव के पास कुल 4323451 रुपये की चल व अचल संपत्ति है।
गिरिडीह, । कोडरमा लोकसभा क्षेत्र से भाकपा माले के प्रत्याशी राजकुमार यादव से अधिक धनवान उनकी पत्नी ललिता देवी है। यह दंपती करोड़पति है। इस दंपती की चल-अचल संपत्तियों में जमीन व नगदी के अलावा चार पहिया वाहनों के साथ ही सेफ्टी रायफल व पोकलेन मशीन भी है। वहीं राजकुमार यादव पर विभिन्न थानों में चार आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।

राजकुमार के पास 43 लाख की संपत्ति : शपथपत्र में यादव ने अपनी चल व अचल संपत्ति का ब्योरा दिया है। इसके अनुसार, राजकुमार यादव के पास कुल 43,23,451 रुपये की चल व अचल संपत्ति है। इनमें जमीन के अलावा एक बोलेरो व एक स्कॉर्पियो शामिल है जिसका मूल्य क्रमश: 2.10 लाख और 8.5 लाख है। साथ ही 94,104 रुपये मूल्य की एक सेफ्टी रायफल है। वहीं उनकी पत्नी के पास कुल 75,18,142 रुपये की संपत्ति है। इसमें 54.15 लाख रुपये की एक पोकलेन मशीन और 1.24 लाख रुपये के जेवरात शामिल हैं। नगदी के मामले में भी यादव से आगे उनकी पत्नी हैं। यादव के पास 1,54,500 तथा उनकी पत्नी के पास 1,97,600 रुपये नगद हैं।

Loksabha Election 2019 : उन्नाव में सांसद साक्षी महाराज ने वोटर्स से कहा- संन्यासी को नाराज मत करना, बुरा होगा
यह भी पढ़ें
लाखों के कर्जदार : शपथ पत्र के अनुसार, राजकुमार यादव ने विधानसभा रांची से 2.30 लाख का ऋण लिया है, जबकि उनकी पत्नी ने बैंक ऑफ इंडिया की धनवार शाखा से 32.84 लाख रुपये का ऋण लिया है। यादव ने स्कॉर्पियो तथा उनकी पत्नी ने पोकलेन मशीन के लिए ऋण लिया है।

दर्ज हैं चार आपराधिक मामले : राजकुमार यादव पर चार आपराधिक मामले दर्ज हैं। कोडरमा जिले के मरकच्चो थाने में एक, गिरिडीह के नगर थाने में दो और गावां थाने में एक मामला दर्ज है। आर्म्स एक्ट, सरकारी कार्य में व्यवधान डालने व मार्ग अवरुद्ध करने, मारपीट, चुनाव नामांकन में व्यवधान उत्पन्न व अपहरण करने जैसे मामलों में वे आरोपित हैं।

गांवा की प्रमुख हैं ललिताः राजकुमार यादव की पत्नी ललिता गिरिडीह जिले के गांवा प्रखंड की प्रमुख हैं। राजकुमार यादव ने अपनी पत्नी की आय का स्रोत व्यापार और मानदेय बताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here