Wednesday, June 19, 2024
Latest:
crimeHaryanaLatestNationalNCRPoliticsSportsTOP STORIES

मंत्री संदीप सिंह पर उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली महिला कोच पर हमला , बाल बाल बची , जान का खतरा

Spread the love

फरीदाबाद ,26 अप्रैल ( धमीजा ) : हरियाणा के पूर्व खेल मंत्री संदीप सिंह पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाने वाली जूनियर महिला कोच पर जानलेवा हमला हुआ लेकिन वह बाल बल बच गई। कोच रात लगभग 9 बजे पंचकूला में अपनी महिला मित्र के साथ स्कूटी में पेट्रोल डलवाने जा रही थी। इस दौरान सेक्टर-8 में एक काले रंग की एंडेवर कार ने सर्विस रोड पर उसे टक्कर मारने की कोशिश की। इस दौरान वह बाल बाल बच गई। हालांकि इसके बाद एंडेवर चालक मौके से फरार हो गया। जूनियर महिला कोच ने इस मामले की एक तहरीर सेक्टर 5 थाने में दी है, जिसमें बताया गया है कि हमला करने वाली एंडेवर पंजाब नंबर की थी।

घटना से पहले सोशल मीडिया पर मिली धमकी
इस जानलेवा हमले से पहले जूनियर महिला कोच को उसके सोशल मीडिया अकाउंट पर धमकी मिली थी। यह धमकी हमले से 2 घंटे पहले दी गई थी। धमकी देने वाले ने कहा था कि अब तक तो धमकी दे रहे थे अब करके भी दिखाएंगे। इसके बाद यह हमला हुआ है। कोच के अनुसार, इससे पहले भी उसे कई बार जान से मारने की धमकी दी जा चुकी है, लेकिन हमला पहली बार हुआ है।

जूनियर महिला कोच ने शिकायत में लिखा है कि उसने 29 दिसंबर 2022 को चंडीगढ़ पुलिस में एक शिकायत दी थी। यह शिकायत हरियाणा के पूर्व खेल मंत्री संदीप सिंह के खिलाफ थी। चंडीगढ़ पुलिस ने तहरीर के आधार पर संदीप सिंह के खिलाफ धारा 342, 354, 354ए, 354 बी, 506 एडेड 509 आईपीसी के तहत दर्ज की गई थी। केस के बाद मुझे लगातार धमकियां दी जा रही हैं, जिसके कारण हरियाणा पुलिस ने मुझे सुरक्षा दी हुई है।

हमलावर ने इशारा भी किया जान से मारने का  

जूनियर महिला कोच ने तहरीर में हमलावर के हुलिए का जिक्र किया है। कोच ने बताया है कि एंडेवर को चलाने वाले व्यक्ति के लंबे बाल थे, और उसने अपने बालों को खोल रखा था। हमले के दौरान उसने मुझे जान से मारने का इशारा किया, जिसके बाद वह तेज गति से अपनी कार में फरार हो गया। हालांकि इस दौरान कई लोगों ने उसे रोकने का प्रयास किया, लेकिन वह सफल नहीं हो पाए।

सुरक्षा में सेंध और जान का खतरा 
महिला कोच ने बताया कि इस हमले के बाद उसके द्वारा डायल 112 पर कॉल की गई, लेकिन उसे कोई रिस्पॉन्स नहीं मिला। इसके बाद कोच के द्वारा उसकी सुरक्षा अधिकारी एसआई नेहा को इस घटना की सूचना दी गई है। कोच ने बताया कि यह मेरी सुरक्षा में सेंध है और जान को खतरा भी है जिसने मुझे इस तरह की दिल दहला देने वाली घटना से झकझोर कर रख दिया। यह पहली बार नहीं है, इससे पहले भी ऐसी घटनाएं हुई हैं।