अग्निपथ की अग्नि में धधक उठा हरियाणा , जगह जगह प्रदर्शन , पथराव , रेलवे ट्रेक जाम और हिंसा की घटनाएं

Spread the love

फरीदाबाद , 17 जून ( धमीजा ) : हरियाणा में शुक्रवार सुबह फिर अग्निपथ भर्ती योजना का विरोध शुरू हो गया । नारनौल, जींद, पलवल, नरवाना, फतेहाबाद, हिसार, रेवाड़ी, कुरुक्षेत्र समेत अन्य जिलों में नौजवान सड़कों पर उतरे और सरकार विरोधी नारेबाजी कर जमकर बवाल काटा। युवाओं ने पथराव एवं तोड़-फोड़ भी की, जिसे कंट्रोल करते हुए पुलिस को बल का प्रयोग भी करना पड़ा।

इस बीच जींद में पथराव की खबर है। यहां रेल रोकने के बाद रोड भी जाम कर दिया गया है। रोड़वेज की बसों का परिचालन प्रशासन ने रोक दिया है। जींद के बाद नरवाना में भी बस स्टैंड के बाहर युवाओं ने जींद-पटियाला हाइवे जाम कर दिया है।

केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के खिलाफ हरियाणा के पलवल में उत्पात मचाने वाले युवकों पर पुलिस ने कार्रवाई की है। कैंप व शहर थाना पुलिस ने 142 नामजद सहित सैकड़ों युवकों के खिलाफ आपराधिक मुकदमा दर्ज कर धरपकड़ शुरू कर दी है। बीते कल युवकों ने नेशनल हाईवे को जाम करके पुलिस बल पर देसी कट्टा से फायर और लाठी-डंडों व सरियों से हमला कर पथराव किया था। जिसमें कई पुलिस जवान घायल हुए।

पलवल में पथराव ,5 गाड़ियों में लगाई आग

वीरवार को इसी दौरान वह बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट व डीएसपी यशपाल खटाना, डीएसपी सतेंद्र कुमार, डीएसपी विजयपाल, चांदहट थाना प्रभारी रमेश कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और प्रदर्शनकारी युवाओं को समझाने का प्रयास किया, लेकिन प्रदर्शन कर रहे युवा बोले की यदि कोई पुलिस कर्मचारी या प्रशासन का कोई भी कर्मचारी आए तो उसे जान से मार दो। इतना कहते ही युवाओं ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया, जिसमें काफी पुलिस कर्मियों को चोटें आई है। उसके बाद उतेजित होकर युवाओं ने पुलिस की 5 गाड़ियों में तोड़फोड़ के बाद आग लगा दी, जिनमें बैठे चालकों ने भागकर अपनी जान बचाई।

पलवल में NH पर टायरों में आग लगाकर जाम लगाते उग्र युवा।

हालात बिगड़ते देख बीडीपीओ ने दिए गोली चलाने के आदेश

बीडीपीओ ने कहा कि कानून व्यवस्था व आम जनता की सुरक्षा के लिए उतेजित भीड़ पर काबू करने के लिए उनके आदेश पर पुलिस ने हल्के बल का प्रयोग किया। इस पर युवा और उग्र हो गए और उन्होंने लाठी-डंडों व लोहे की सरियों से उत्पाद मचाते हुए डीसी निवास में पथराव कर दिया। इसी दौरान कुछ युवाओं ने हाथों में लिए अवैध हथियारों से  पुलिस फोर्स पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस कर्मियों व उन्होंने जैसे-तैसे अपनी जान बचाई। जिसके बाद उन्होंने गोली चलाने के आदेश दिए।

पुलिस कर्मचारियों ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हवाई फायर किए। जिसके कुछ देर बाद ही और पुलिस फोर्स आने पर भीड़ को तितर-बितर किया गया। इस पर उग्र नौजवान शहर की गलियों में छिपते-छुपाते हुए मौके से भाग गए।

 700 -800 नौजवानों केमखिलाफ दर्ज किये मुक़दमे 

कैंप थाना पुलिस ने बीडीपीओ नरेश कुमार की शिकायत 72 नामजद सहित 700-800 नौजवानों के खिलाफ धारा 148, 149, 186, 435, 436, 332, 353, 307, 506 भादस और 3, 4 पीडीपीपी एक्ट व 25/54/59 आर्म्स एक्ट और 8 बी नेशनल हाईवे एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। शहर थाना पुलिस ने एक्शन पीडब्ल्यूडी नरेंद्र यादव की शिकायत पर 148, 149, 186, 435, 436, 332, 353, 307, 379बी, 506 भादस व 3, 4 पीडीपीपी एक्ट व 25/54/59 आर्म्स एक्ट व 8 बी नेशनल हाईवे एक्ट के तहत 70 नामजद सहित 700-800 अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

 पुलिस का फ्लैग मार्च , हाई अलर्ट पर पुलिस 

एडीजीपी दक्षिण रेंज रेवाड़ी एम रवि करण, एसपी पलवल मुकेश कुमार मल्होत्रा व डीसीपी क्राइम फरीदाबाद नरेंद्र सिंह कादयान ने पुलिस बल के साथ नेशनल हाईवे के अलावा शहर में फ्लैग मार्च कर लोगों को धारा-144 लगी होने की सूचना देते हुए सावधान रहने की हिदायतें दी। एडीजीपी एम रवि करण ने कहा कि उपद्रवियों से निपटने के लिए अलर्ट पर हैं। किसी भी कीमत पर उपद्रवियों को बक्सा नहीं जाएगा।

आक्रोश की भड़कती चिंगारी पहुंची नारनौल 

अग्निपथ योजना लागू करने के खिलाफ भड़की आक्रोश की ‘चिंगारी’ नारनौल शहर तक पहुंच गई। शुक्रवार सुबह से ही शहर के विभिन्न इलाकों में बवाल हो रहा है। प्रदर्शनकारियों ने न केवल तोड़फोड़ की, बल्कि कई प्रमुख सड़कों पर जाम लगा दिया। हाथों में लाठी-डंडे और पत्थर लिए युवाओं ने पुलिस पर भी पथराव किया। बेरिकेड्स तोड़ डाले। उग्र प्रदर्शन को देखते हुए पूरे शहर में धारा 144 लागू कर दी गई है।

दरअसल, शुक्रवार सुबह 9 बजे बड़ी संख्या में युवा शहर के नेताजी सुभाष चन्द्र बोस पार्क में एकत्रित हुए। यहां से प्रदर्शन करते हुए पहले बस स्टैंड पहुंचे और फिर डीसी कैंप ऑफिस की तरफ रूख करने लगे तो पुलिस के साथ तकरार हो गई। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने भी लाठियों का प्रयोग करते हुए प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया। कुछ देर बाद युवाओं के एक दूसरे गुट ने महावीर चौक पर जाम लगा दिया। यहां पुलिस के साथ काफी नोकझोंक हुई

धर्मनगरी कुरुक्षेत्र में भी हुआ विरोध 

हरियाणा की धर्मनगरी कुरुक्षेत्र में भी अग्निपथ भर्ती योजना का विरोध शुरू हो गया है। विभिन्न छात्र संगठनों के आह्वान पर युवाओं ने यहां विश्वविद्यालय के थर्ड गेट पर एकत्रित होकर धरना देकर प्रदर्शन किया। इस बीच प्रशासन के माध्यम से एक ज्ञापन भेजकर अग्निपथ को रद्द करने की मांग की गई।

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के थर्ड गेट पर छात्र संगठनों के बैनर तले सैकड़ों की संख्या में छात्रों ने इकट्ठे होकर सरकार नई अग्निपथ योजना का विरोध किया। इस दौरान छात्र नेता विकास बलाही ने कहा कि सरकार की अग्निपथ योजना से युवाओं में काफी निराशा है। क्योंकि सेना में हरियाणा के सबसे ज्यादा जवान भर्ती होते हैं और अब जो योजना लागू की है, इससे युवाओं में काफी रोष है क्योंकि 4 साल की नौकरी कोई नहीं करना चाहता।

फतेहाबाद में भी हंगामा 

हरियाणा के फतेहाबाद में अग्निपथ को लेकर युवाओं ने रतिया के संजय चौक को जाम कर दिया है। सैकड़ों युवा सुबह से ही यहां बैठे हैं और केंद्र सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन कर रहे हैं। युवाओं को दो साल से सेना की भर्ती का इंतजार था। अब अग्निपथ योजना सामने आने पर रोष बढ़ गया है।

केंद्र सरकार की सेना की शॉर्ट टर्म भर्ती की अग्निपथ योजना के विरोध में हरियाणा में दूसरे दिन भी युवाओं का रोष प्रदर्शन जारी रहा है। फतेहाबाद में युवाओं ने एक दिन पहले ही घोषणा कर दी थी कि शुक्रवार को प्रदर्शन किया जाएगा। सुबह रतिया में सैकड़ों की संख्या में युवाओं ने संजय गांधी चौक पर इकट्ठा होकर रोड जाम कर दिया। जिससे पुलिस की सांस फुल गई और वहां पर सैकड़ों की संख्या में पुलिस कर्मचारी तैनात कर दिए।

रोहतक में एमडी यूनिवर्सिटी के बाहर चक्का जाम 

रोहतक में शुक्रवार को युवाओं ने महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी के बाहर अग्निपथ योजना को लेकर लगाया जाम दिया। युवाओं का कहना है कि सरकार ने अग्निपथ योजना लाकर उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है। युवा केवल पैसों के लिए फौज में नहीं जाते, बल्कि उनमें देश सेवा का जुनून होता है।

युवा सेना में जाने के लिए सालों साल भर्ती की तैयारी करते हैं और पसीना बहाते हैं। युवाओं के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए भारी संख्या में पुलिसबल तैनात किया गया है। पुलिस ने जाम लगने की वजह से रूट को डायवर्ट किया है, ताकि यात्री जाम में न फंसे और इन्हें परेशानी न हो।

भाजपा कार्यालय का घेराव

एमडीयू के गेट के बाहर रोड जाम कर रहे युवाओं ने भाजपा कार्यालय घेराव करने का निर्णय लिया। जिसके चलते युवाओं ने दिल्ली रोड का जाम खोल दिया और भाजपा कार्यालय की तरफ रवाना हुए। युवा अग्निपथ योजना को रद्द करने की मांग को लेकर डटे हुए हैं। उनका कहना है कि सरकार की यह योजना युवाओं के भविष्य के लिए हानिकारक है। जिसके चलते युवा विरोध प्रदर्शन करने को मजबूर हैं।

हिसार में नारेबाजी और प्रदर्शन

 हिसार में केंद्र सरकार की योजना के विरोध में युवक शुक्रवार सुबह महावीर स्टेडियम में जमा हुए और नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। इसके बाद युवा लघु सचिवालय की ओर निकले। विरोध को देखते पुलिस ने सुरक्षा बढ़ा दी है। प्रदर्शनकारी नौजवानों ने डीसी प्रियंका सोनी को अग्निनपथ योजना को रद्द करने के संबंध में केंद्र सरकार के नाम का ज्ञापन सौंपा और फव्वारा चौक में पहुंचकर 10 मिनट तक जाम लगया। युवाओं ने परिजात चौक और अग्रसेन चौक पर भी जाम लगाया।..

 जींद में रेलवे ट्रैक किया जाम 

दूसरी तरफ जींद के नरवाना में युवाओं ने दिल्ली-फिरोजपुर रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया है। जींद में प्रदर्शन हो रहा हे, वहीं फतेहाबाद के रतिया में भी संजय चौक पर युवा प्रदर्शन कर रहे हैं। इस बीच भिवानी के तोशाम से बड़ी संख्या में युवाओं के दिल्ली के लिए कूच करने की सूचना है। युवा हाथों में तिरंगा थामे हुए है। हरियाणा के कई अन्य क्षेत्रों में भी युवाओं का विरोध शुरू हो गया है। पुलिस अलर्ट पर है और पलवल के बाद आज फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में भी एहतियातन इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है।

हरियाणा के जींद के नरवाना में अग्निपथ के विरोध में युवाओं ने रेलवे ट्रैक जाम कर दिया है। युवा नरवाना के रेलवे स्टेशन पर एकत्रित हुए और इसके बाद रेलवे लाइन पर जम गए। दिल्ली-फिरोजपुर रेलवे लाइन पर युवाओं के विरोध के कारण रेल सेवा बंद हो गई है। नरवाना में मालगाड़ी रोक दी गई है। वहीं पंजबा से दिल्ली जाने वाली गाड़ियों को जाखल रेलवे स्टेशन पर रोक दिया गया है। एएसपी कुलदीप सिंह मौके पर पहुंच गए हैं। जींद-कुरुक्षेत्र रेलवे सेवा भी बंद है। इस बीच जींद में युवाओं ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है। गुरुवार को भी जींद में युवाओं ने इसके विरोध में पुतला जताया था।