Saturday, April 13, 2024
Latest:
BusinessEntertainmentFEATUREDHaryanaLatestNationalNCRPoliticsTOP STORIES

विधायक त्रिखा का प्रयास लाने लगा रंग, मुंबई के मैरीन ड्राइव की तर्ज़ पर बड़खल झील का काम तीव्र गति से चालू , सीएस ने ली समीक्षा बैठक

Spread the love
फरीदाबाद, 17 अप्रैल ( धमीजा ) :  विधायक सीमा त्रिखा द्वारा बड़खल झील को पुनः गुलज़ार करने के सपने को पूरा करने के लिए हरियाणा सरकार मुस्तैदी से कार्य कर रही है। पिछली किसी सरकारने इस और ध्यान नहीं दिया था ,लेकिन भाजपा सरकार आते ही विधायक सीमा त्रिखा ने संकल्प लिया कि फरीदाबाद शहर की पहचान और शान रही झील को दुबारा से गुलज़ार कर के ही सांस लेंगी। उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर से झील को पुनः जीवंत करने की मांग सार्वजनिक मंच से व व्यक्तिगत रूप से भी की। जिसे सीएम् ने मंज़ूरी दे दी थी। फिर क्या था ,श्रीमती त्रिखा चंडीगढ़ से लेकर शहर के आला अधिकारियों के पीछे लग गयी इस प्रोजेक्ट को पूरा करवाने के लिए। अब बड़खल झील में पानी भरने व इसके उद्धार के लिए जोर शोर से काम चल रहा है। मुंबई की मैरीन ड्राइव की तर्ज पर विकसित किया जा रहा है बड़खल पर्यटन झील को।
आज हरियाणा के मुख्य सचिव संजीव कौशल की अध्यक्षता में विडियो कांफ्रेंस के जरिये बडख़ल झील सहित सूरजकुंड व फरीदाबाद के अन्य पर्यटन स्थलों के विकास कार्यों के क्रियान्वयन के लिए समीक्षा बैठक आयोजित की गई। मुख्य सचिव संजीव कौशल ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में फरीदाबाद के पर्यटन स्थलों की विकासात्मक योजनाओं और परियोजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए अधिकारी आपसी तालमेल करके अमलीजामा पहनाना सुनिश्चित करें।
मुख्य सचिव संजीव कौशल ने एक-एक करके बडख़ल झील, सूरजकुंड और लकडपुर क्षेत्र में पर्यटन विभाग की  विकासात्मक योजनाओं और परियोजनाओं की बारीकी से समीक्षा कर संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए।
बैठक में बडख़ल गांव से अवैध कब्जे हटाने तथा विश्वस्तरीय बडख़ल झील के एंट्री प्वाइंट अनखीर चौक से झील तक पहुंचाने तथा सूरजकुंड वाली सडक़ का सौंदर्यीकरण सहित बिजली सप्लाई से जुड़ी हुई लाइन तथा अन्य कार्य, सीवरेज व्यवस्था, स्ट्रीट लाइटिंग और अन्य मूलभूत विकास कार्यों के बेहतर क्रियान्वयन के लिए मंत्रणा कर संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए गए। वहीं समीक्षा बैठक में विकासात्मक योजनाओं और परियोजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए तथा आन लाइन प्लेट फार्म प्रणाली को आधुनिक तौर तरीकों के साथ विभागों तथा एजेंसियों से आपसी सहमति से करवाया जाने बारे बारिकी से चर्चा की गई। सडक़ों पर स्ट्रीट लाइटिंग, इलेक्ट्रिकल वर्क, रोड, फुटपाथ, ग्रिल सहित तमाम पहलुओं पर बारीकी से समीक्षा की गई। वहीं बडख़ल झील पर चल रहे जीर्णोद्धार कार्य बांध, पार्किंग, फुटओवर ब्रिज, एस्केलेटर, बाउंड्री वॉल, सीवर लाइन आदि के निर्माण कार्य के बेहतर क्रियान्वयन के लिए विस्तृत जानकारी लेकर समीक्षा की गई।

विश्व पर्यटन केंद्र के रूप में उभरेगा बडख़ल झील और सूरजकुंड का क्षेत्र
बडख़ल झील का जीर्णोद्धार मुंबई के मैरिन ड्राइव की तर्ज पर किया जा रहा है। इस मैरिन ड्राइव का सौंदर्यीकण विश्व स्तरीय होगा। इस बांध पर बच्चों के लिए झूले, रेस्त्रा, जूस कॉर्नर, वॉकिंग ट्रैक, फूड कोट्र्स, ओपन एयर जिम आदि सुविधाएं मिलेंगी। कर्णप्रिय संगीत की धुनों पर योगाभ्यास, व्यायाम करने की सुविधा भी इस स्थल पर होगी। यह स्थल शहर के सबसे खूबसूरत जगह में से एक होगी। झील को गंदगी से बचाने के लिए फेंसिंग की जाएगी। बडख़ल झील एक बार फिर पर्यटन केंद्र के रूप में उभरेगी। विडियो कान्फ्रेंस में पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव एमडी सिन्हा, डीसी विक्रम सिंह, सहायक पुलिस आयुक्त ओपी नरवाल, एचएसवीपी प्रशासक डॉक्टर गरिमा, एस्टेट ऑफिसर अमित कुमार, एसीपी अभिमन्यु गोयत, टाऊन प्लानर रेनू चौधरी, वन विभाग के रेंजर प्रतीक पांचाल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौके पर  मौजूद रहे।