Wednesday, June 19, 2024
Latest:
BusinesscrimeHaryanaLatestNationalNCRTechnologyTOP STORIES

वीजी इंडस्ट्रीज और उसके ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी, मारुती सहित कई बड़ी ऑटो कंपनियों के पार्ट बनाती है वीजी

Spread the love
फरीदाबाद, 15 फरवरी ( धमीजा ) : औद्योगिक नगरी फरीदाबाद में ऑटो पार्ट्स बनाने वाली बड़े कंपनी वीजी इंडस्ट्रीज के ठिकानों पर  आयकर विभाग ने बुधवार को एक साथ छापेमारी की। आयकर विभाग के निशाने पर सेक्टर-24 स्थित वीजी इंटरप्राइजेज फैक्ट्री रही। सूत्रों के अनुसाकर दिल्ली.एनसीआर में इस फैक्ट्री से जुड़े लोगों और कार्यालयों पर कई जगह छापेमारी की सूचना है। आयकर विभाग की टीम आज सुबह फैक्ट्री के निदेशसकों के घर, दफ्तर व कम्पनी पर पहुंची।सूत्रों के अनुसार टीम ने मौके से जरुरी दस्तावेज, मोबाइल, लैपटाप अपने कब्जे में लिए हैं। आयकर विभाग की कार्रवाई देर शाम तक कार्रवाई जारी रही।
 
उल्लेखनीय है कि सेक्टर-24 स्थित वीजी इंटरप्राइजेज मारुति की शहर में सबसे बड़े आटोमोबाइल पार्ट्स के वेंडर हैं। दिल्ली एनसीआर में इसकी कई इकाईयां हैं। बताया जा रहा है कि फरीदाबाद आयकर निदेशक यूनिट दो की ओर से टीम गठित की गई। इसमें गुरुग्राम और दिल्ली की आयकर टीमों को भी शामिल किया गया। सभी टीमों ने बुधवार सुबह करीब सात बजे एक साथ सभी ठिकानों पर छापा मारा। इस टीम में सीआईएसएफ कर्मी भी शामिल किए गए।

टीम सबसे पहले फैक्ट्री के मालिक नवीन सूद के सेक्टर-21बी स्थित कोठी पर पहुंची। इसके बाद उनके टैक्सेशन वकील राजकुमार अग्रवाल और राकेश गुप्ता के सेक्टर-9 स्थित निवास पहुंची। इसके अलावा टीम फैक्ट्री के गुरुग्राम, दिल्ली स्थित ठिकानों पर पहुंची। टीम ने मौके पर मिले सभी लोगों के मोबाइल बंद करा दिए। टीम ने मोबाइल, लैपटाप कब्जे में ले लिए ताकि कोई उनका डाटा डिलीट न कर सके। घर के अंदर मौजूद सभी लोगों की आवाजाही रोक दी गई। विभाग अधिकारियों का अंदेशा है कि टैक्स में गड़बड़ी कर फैक्ट्री मालिक और निदेशकों ने दूसरी जगह पैसा लगाया है। इससे सरकार को वित्तीय नुकसान हुआ है।