Thursday, June 20, 2024
Latest:
crimeHaryanaLatestNationalNCRPoliticsTOP STORIES

नूहं में हुए दंगों में पाकिस्तानी कनेक्शन, आज दूसरे दिन भी चला सरकारी बुलडोज़र, हो सकता है बड़ा एक्शन

Spread the love

फरीदाबाद , 5 जुलाई ( धमीजा ) : हरियाणा की नूंह हिंसा में अब पाकिस्तानी कनेक्शन सामने आया है। हरियाणा पुलिस की जांच में पाकिस्तानी यू-ट्यूबर जीशान मुश्ताक के बारे में पता चला है। उसने भड़काऊ वीडियो पोस्ट किए। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यू-ट्यूबर ने अहसान मेवाती पाकिस्तानी के नाम से सोशल मीडिया अकाउंट बना रखा था। यूजर ने अपनी लोकेशन राजस्थान का अलवर बताई थी, हालांकि हकीकत में वह पाकिस्तान के इस्लामाबाद और लाहौर से वीडियो पोस्ट कर रहा था।

जीशान ने पाकिस्तान एजुकेशन एंड रिसर्च नेटवर्क (PERN) के जरिए वीडियो अपलोड किए। इस सेंट्रलाइज्ड नेटवर्क से पाकिस्तान के एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस को इंटरनेट दिया जाता है। यह पाकिस्तान सरकार का ही हिस्सा है।

जीशान ने मोनू मानेसर को मारने और नूंह में हिंसा के लिए उकसाया था। जिस दिन हिंसा जारी थी, उसी दिन आगजनी-तोड़फोड़ के फुटेज भी जारी कर रहा था। पुलिस को शक है कि जीशान का नूंह में मजबूत नेटवर्क है। पुलिस ने अब तक की जांच के आधार पर केस दर्ज करने की तैयारी कर ली है।

पुलिस सोशल मीडिया प्रोफाइल की कर रही जांच 

सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ऐसे कई सोशल मीडिया प्रोफाइल की जांच कर रही है, जो हाल ही में बनाए गए हैं। इनसे लगातार भड़काऊ पोस्ट और वीडियो अपलोड किए गए हैं। इनमें से एक अहसान मेवाती का प्रोफाइल वायरल है। अब तक की जांच में पता चला है कि यह जीशान का प्रोफाइल है। वो खुद को अलवर का बताता है। 31 जुलाई को जब नूंह में हिंसा भड़की हुई थी, तब उसके वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे थे।

भड़काऊ वीडियो किये अपलोड , वीडियो को 1 लाख 45 हजार लाइक्स मिले, हरियाणा में स्ट्रॉन्ग कनेक्शन

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे अहसान मेवाती के अकाउंट्स की डिटेल। जिसमें एक में वह पाकिस्तान और दूसरे में अपनी लोकेशन अलवर राजस्थान बता रहा है।

 सूत्रों के मुताबिक, जीशान ने अहसान मेवाती के नाम से भड़काऊ वीडियो अपलोड किए, उसके अलावा वो जो जानकारियां दे रहा था…उनसे जाहिर होता है कि हरियाणा में उसका स्ट्रॉन्ग कनेक्शन है। वीडियो पोस्ट होने के 48 घंटे के भीतर उन्हें 1 लाख 45 हजार लाइक्स मिले। उसके यू-ट्यूब चैनल पर 273 वीडियो पोस्ट किए गए हैं और 80 हजार फॉलोअर्स हैं।

 जांच में सामने आया है कि जीशान का यू-ट्यूब हैंडल [email protected] ई-मेल से रजिस्टर्ड था। जीशान ऊर्फ अहसान मेवाती जब वीडियो अपलोड कर रहा था तो उसकी लोकेशन इस्लामाबाद की मिली। उसका IP एड्रेस पाकिस्तानी नेटवर्क PERN में था।

 जीशान 27 जुलाई को पाकिस्तान के पंजाब में सरगोढ़ा के करीब एक गांव में गया था। वहां उसने एक वीडियो रिकॉर्ड किया। इस दौरान उसने टेलेनॉर ब्रॉडबैंड का इस्तेमाल किया। 1 अगस्त को वह लाहौर पहुंचा और Zong नेटवर्क का इस्तेमाल किया। इस दौरान वह एक क्रिकेट ग्राउंड के करीब था। यह जगह पंजाब सचिवालय के करीब है।

 सूत्रों अनुसार जीशान फिलहाल 2 मोबाइल का इस्तेमाल कर रहा है। वह इनके जरिए वीडियो रिकॉर्ड करता है। इन मोबाइल्स के जरिए वो 11 ई-मेल ऑपरेट कर रहा है। वो यू-ट्यूब के अलावा फेसबुक और इंस्टाग्राम पर भी एक्टिव है।

नूंह में चला सरकारी बुलडोजर 
इस बीच, नूंह में हुई हिंसा के 5 दिन बाद राज्य सरकार का बुलडोजर एक्शन दूसरे दिन भी जारी है। शनिवार को पुलिस फोर्स के साथ अधिकारी 4 बुलडोजर लेकर नूंह पहुंचे। यहां नलहड़ रोड पर 30 मकान-दुकान गिरा दी गईं। अधिकारियों का कहना है कि ये अवैध निर्माण हैं और इनमें रहने वाले 31 जुलाई की हिंसा में शामिल थे।

इससे पहले शुक्रवार को नूंह में ही 25 घर-दुकानों और रोहिंग्या की 250 झुग्गियों पर बुलडोजर चलाया गया था। पुलिस ने इन्हें भी अवैध कब्जा करार दिया था।

 नूंह के एसपी व डीसी बदले 

इसके साथ सरकार ने शुक्रवार देर शाम नूंह के DC प्रशांत पंवार को हटा दिया। उनकी जगह पर धीरेंद्र खड़ागटा को भेजा गया है। इससे पहले गुरुवार देर रात नूंह के SP वरूण सिंगला का ट्रांसफर कर दिया गया। नूंह में हिंसा के दौरान वह छुट्‌टी पर थे। उनकी जगह पर अब नरेंद्र बिजराणिया को नूंह का नया SP बनाया गया है। सूत्रों के मुताबिक नूंह में सरकार बड़े एक्शन की तैयारी में है। इसलिए इन दोनों अधिकारियों को वहां तैनात किया गया है।