किसान आंदोलन के 6 महीने पूरे होने पर हरियाणा में रोष प्रदर्शन , मोदी के पुतले जलाये , दुष्यंत चौटाला के निवास के बाहर धक्का मुक्की

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दिल्ली , 26 मई : केंद्र सरकार द्वारा अस्तित्व में लाए गए 3 नए खेती कानूनों के विरोध में आंदोलन के 6 महीने पूरे होने के बाद बुधवार को देशभर के साथ हरियाणा में भी जगह-जगह रोष प्रदर्शन हुए। प्रदर्शनकारी किसानों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुतले जलाए। इसी बीच सिरसा में तनाव की घटना सामने आई है। यहां हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की कोठी पर प्रदर्शन के दौरान किसानों और पुलिस के बीच जमकर धक्का-मुक्की हुई है। प्रदर्शनकारियों ने यहां बैरिकेड्स भी तोड़ दिए।

दरअसल, संयुक्त किसान मोर्चे की तरफ से पूर्व में किए गए काला दिवस मनाने के आह्वान पर विभिन्न किसान संगठनों ने बुधवार दोपहर सिरसा के दादा भूमनशाह चौक पर प्रदर्शन किया। इन्होंने हाथों में काले झंडे लेकर भाजपा सरकार और प्रदेशा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के खिलाफ जमकर नारे लगाए। इस दौरान पुलिस ने बैरिकेडिग लगाकर बाईपास को बंद किया हुआ था। भारी पुलिस बल भी तैनात था, मगर बावजूद इसके प्रदर्शनकारी किसान हावी होते नजर आए। इन्होंने बैरिकेड तोड़ते हुए दुष्यंत चौटाला की कोठी के समक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला जलाया।

प्रदर्शनकारी किसानों को पुलिस ने समझाने का भी प्रयास किया, लेकिन ये नहीं माने। घटनास्थल पर पुलिस बल के साथ एसडीएम  जयवीर यादव और डीसपी  आर्यन चौधरी भी मौजूद रहे। उधर, किसान नेता मेक्स साहूवाला ने कहा कि दिल्ली में किसानों के आंदोलन के 6 माह पूरे होने पर आज काला मनाया गया है। इस दौरान किसानों ने अपने वाहनों और घरों पर काले झंडे लगाए हैं। जब तक काले कृषि कानून वापस नहीं हो जाते, उनका आंदोलन निरंतर जारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *