Sunday, May 19, 2024
Latest:
HaryanaLatestNationalNCRTOP STORIES

सिटी प्रेस क्लब (वुमन कॉर्प्स) की सदस्यों ने विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के साथ मिलकर मनाया विश्व महिला दिवस

Spread the love

फरीदाबाद , 6 मार्च ( धमीजा ) : सिटी प्रेस क्लब (वुमन कॉर्प्स) ने विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के साथ मिलकर घरोड़ा स्थित हरिजन बस्ती में महिलाओं के साथ मिलकर विश्व महिला दिवस मनाया।
इस अवसर पर वुमन कॉर्प्स की पूरी टीम ने 150 महिलाओं को सेनेटरी नेपकिन एवं पानी की बोतल वितरित कीं। इस अवसर पर सिटी प्रेस क्लब के अध्यक्ष बिजेंद्र बंसल, कार्यकारी अध्यक्ष नवीन धमीजा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रीतपाल माटा, कोषाध्यक्ष मनोज मंडल और विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के निदेशक दीपक यादव ने महिला साथियों की हौंसला अफजाई की।
इस मौके पर वुमन कॉर्प्स की अध्यक्ष यशवी गोयल ने कहा कि विश्व महिला दिवस पर अनेक कार्यक्रम आयोजित होंगे लेकिन ऐसा कम ही देखने में आता है कि लोग आम ग्रामीण गृहिणियों के साथ विश्व महिला दिवस मनाते हों। इसलिए आज वुमन कॉर्प्स ने हरिजन बस्ती की महिलाओं के साथ विश्व महिला दिवस मनाया है जिसमें उन्हें मासिक धर्म को लेकर भी सावधानियां बरतने के बारे में जानकारी दी। उन्हें बताया कि किस प्रकार आप अपने पर्सनल हाइजिन पर भी ध्यान दें।
इस मौके पर अमर उजाला की वरिष्ठ पत्रकार हेमलता रावत ने कहा कि आज वुमन कॉर्प्स ने एक नई लकीर खींची है। आम गृहिणियों को कोई भी याद नहीं करता है। गृहिणी भी अपनी जिम्मेदारियों को उठाते हुए पूरे परिवार का ध्यान रखती हैं। उन्हें पूरा विश्वास है कि जरूरतमंद महिलाओं को जिस तरह आज जरूरत की चीजें वितरित की गई हैं उससे समाज के अन्य लोग भी जरूरतमंद महिलाओं के साथ महिला दिवस मनाएंगे। न्यूज नेशन चैनल से प्रोड्यूसर पुष्पांजलि शर्मा ने कहा कि महिला समाज का निर्माण करती है, महिला ही वो शक्ति है जो ईश्वर को भी गर्भ में धारण कर सकती है। पुष्पांजलि ने गांव की सभी महिलाओं से अपील की कि वह अपने ऊपर भी ध्यान दें और मासिक धर्म के दौरान अपना विशेष ख्याल रखकर बहुत सारी बीमारियों से बचा जा सकता है।
इस अवसर पर वाइॅस ऑफ हरियाणा से शालू तंवर, जनपुकार से सृष्टि खंडेलवाल, पहचान फरीदाबाद से अंजलि, वाइट मिर्ची से वर्षा राठौर, टुडे भास्कर से कशिश जैन, अंकिता शर्मा, पहचान फरीदाबाद से सिमरन, कविश सिंह, मानवाधिकार किरण से डॉली शर्मा,  विद्यासागर इंटरनेशनल से भावना आदि ने सभी महिलाओं को उनका जीवन प्रेरणा के साथ मनाने के लिए प्रोत्साहित किया।