Sunday, May 19, 2024
Latest:
HaryanaLatestNationalNCRPolitics

चुनावी रण : भाजपा उम्मीदवार गुर्जर का जगह जगह हो रहा भव्य स्वागत, खत्म नहीं हो रही कांग्रेस की गुटबाज़ी 

Spread the love
फरीदाबाद, 15 मई ( धमीजा ), लोकसभा चुनाव प्रचार पूरे चरम पर है । फरीदाबाद में कांग्रेस और भाजपा के बीच सीधे मुकाबले में दोनों ही पार्टियों के उम्मीदवार अपनी अपनी जीत का दावा कर रहे हैं और आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। इस लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी कृष्णपाल गुर्जर पिछले दस साल से सांसद हैं और मोदी मंत्रीमंडल के सदस्य हैं। वह जोर शोर से चुनाव प्रचार में जुटे हैं।
श्री गुर्जर के समर्थकों को पूरा विश्वास है कि श्री गुर्जर इस बार भी भारी बहुमत से विजयी होंगे और फरीदाबाद के विकास को गति मिलेगी। श्री गुर्जर को लोकसभा क्षेत्र में सभी 36 बिरादरियों का भारी समर्थन मिल रहा है। सभी 9 विधानसभा क्षेत्रों में विजयी होंगे। श्री गुर्जर लोगों को कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में फैले भ्रष्टाचार की याद दिला रहे हैं और कांग्रेस के खिलाफ चुनाव मैदान में डटे हैं। जगह जगह उनका भारी स्वागत हो रहा है। 
पिछली बार यानी 2019 के लोकसभा चुनाव में कृष्णपाल गुर्जर 6 लाख से भी अधिक वोटों से विजयी हुए थे। उनकी लोकप्रियता को देखते हुए विपक्ष उनके सामने अपना उम्मीदवार तक तय नहीं कर पा रहा था। जो नेता टिकट मांग रहे थे उन्हें कांग्रेस पार्टी खुद ही कमजोर मान रही थी और जो महेंद्र प्रताप सिंह चुनाव ही नहीं लड़ना चाहते थे, उन्होंने पार्टी से टिकट तक नहीं मांगी थी, पार्टी ने गुटबाज़ी के चलते उन्हें उम्मीदवार बना दिया। टिकट मिलने के बाद उन्होंने खुले मंच से कहा कि वह तो चुनाव ही नही लड़ना चाहते थे लेकिन पार्टी ने उन्हें उम्मीदवार बना दिया। ऐसे में कांग्रेस की टिकट मांग रहे प्रदेश के पूर्व मंत्री करण सिंह दलाल ने अपनी ही पार्टी के प्रत्याशी के खिलाफ ही बिगुल बजा दिया। कई दिनो के मन्नो मनोवल के बाद वह महेंद्र प्रताप के समर्थन के लिए राजी हुए। यही नहीं पूर्व मुख्यमंत्री एवं करण सिंह दलाल के समधी भूपेंद्र सिंह हुडा ने अभी तक फरीदाबाद में कांग्रेस प्रत्याशी महेंद्र प्रताप सिंह के समर्थन में कोई जनसभा नहीं की है। इससे भी पार्टी कार्यकर्ताओं में संशय और गुटबाज़ी का माहौल नज़र आ रहा है। जबकि दूसरी और भारतीय जनता पार्टी एकजुट होकर कृष्णपाल गुर्जर के साथ खड़ी है और चुनाव मैदान में डटी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर इस औद्योगिक नगरी के लोग भाजपा के साथ नज़र आते हैं। इन तमाम परिस्थितियों को देख कर अंदाजा लगाया जा सकता है कि भाजपा उम्मीदवार श्री गुर्जर मजबूत नजर आ रहे हैं। उनके समर्थक व आरएसएस के लोग इस तैयारी में जुटे हैं कि 25 मई को अधिक से अधिक लोग वोटिंग करें और भारी मतदान हो।    

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *