Wednesday, June 19, 2024
Latest:
crimeHaryanaLatestNCRTOP STORIES

एक हफ्ते से गायब सेक्टर -37 निवासी बिल्डर जुगल किशोर की निर्मम ह्त्या , दो गिरफ्तार

Spread the love

फरीदाबाद, 8 जून : सेक्टर -37 में रहने वाले बिल्डर जुगल किशोर गोयल को उन्ही के घर में बीस साल तक किराए पर रहने वाल्व युवक ने अपने एक साथी के साथ मौत के घाट उतार दिया और उनका शव उतर प्रदेश में गंग नहर में फेंक दिया। एक हफ्ता पहले गायब हुए जुगल किशोर के परिवार वाले ढूंढते रहे , उनका कोई सुराग नहीं लग पा रहा था।  इसी बीच पुलिस ने मामले की छानबीन कर उनके मोबाइल फोन पर आने जाने वाले नम्बरों की पड़ताल की तो जांच के दौरान उन्ही के पुराने किरायेदार अजय पर शक हुआ।  पुलिस ने अजय से पूछ ताछ की तो अजय ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।   मामला 1 सप्ताह पहले का है। सेक्टर 37 के रहने वाले बिल्डर जुगल किशोर घर से निकलने के बाद एकाएक लापता हो गए थे और 1 सप्ताह बाद उनकी लाश उत्तर प्रदेश के जिले मुजफ्फरनगर के थाना खतौली क्षेत्र से बरामद की गई। पुलिस को दी अपनी शिकायत में मृतक बिल्डर के बेटे ने बताया कि उसके पिता एक जून को अपनी ब्रेजा गाड़ी लेकर घर से निकले थे परंतु उसके बाद वापस नहीं लौटे। उन्होंने अपने पिता को ढूंढने की बहुत कोशिश की परंतु उन्हें उनकी कोई खबर नहीं मिली। बिल्डर के बेटे की शिकायत पर थाना सराय ख्वाजा में गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज करके लापता बिल्डर की तलाश शुरू कर दी गई। पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए क्राइम ब्रांच डीएलएफ को बिल्डर को तलाश करने की जिम्मेवारी सौंपी। क्राइम ब्रांच डीएलएफ  प्रभारी उप निरीक्षक अनिल कुमार की टीम ने इस मामले की जांच  में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। प्राथमिक जांच में सामने आया कि आरोपी अजय बिल्डर जुगल किशोर के मकान में 20 साल तक किराए पर रहा था और वह नोएडा में किसी कंपनी में काम करता था। दूसरा आरोपी पीटर उर्फ  जॉन भी नोएडा में प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता था। आरोपी अजय ने ही बिल्डर जुगल किशोर की पहचान अपने साथी आरोपी पीटर  उर्फ जॉन के साथ करवाई थी। आरोपियों ने किसी डील के चक्कर में बिल्डर का अपहरण कर उसकी हत्या की बात कबूली और हत्या के पश्चात उसके शव को उत्तर प्रदेश के खतौली के पास गंग नहर में फेंक दिया। आरोपियों ने बताया कि बिल्डर की हत्या करने के पश्चात उसकी गाड़ी को उन्होंने दिल्ली में छुपा दिया था। आरोपियों द्वारा दी गई सूचना के आधार पर खतौली थाना प्रबंधक से संपर्क स्थापित करके बिल्डर के शव को बरामद कर लिया गया है।  पुलिस ने आज दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है जिसमें मामले में आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर हत्या की पूरी तहकीकात की जा सके ।