पानीपत में जजपा अध्यक्ष अजय चौटाला को किसानों ने दिखाए काले झंडे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

पानीपत ,16 सितंबर ( धमीजा ) : जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय चौटला को पानीपत में भारतीय किसान यूनियन (चढ़ूनी ग्रुप) के विरोध का सामना करना पड़ा। पहले से ही कार्यक्रम स्थल पर मौजूद भाकियू पदाधिकारियों ने जजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष को काले झंडे दिखाए। कुछ पदाधिकारियों ने उनकी कार के आगे लेटने का भी प्रयास किया। पुलिस ने कड़ी मशक्कत से भाकियू कार्यकर्ताओं को हटाया।

वहीं प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के पिता अजय चौटाला ने कहा कि इस्तीफा देने से कृषि कानूनों का हल निकलता हो तो वह दुष्यंत समेत सभी का इस्तीफा दिलाने को तैयार हैं। उन्होंने निकाय और पंचायत चुनाव भी गठबंधन में लड़ने की बात कही है।

कृषि कानूनों को लेकर केंद्र और प्रदेश सरकार का विरोध चल रहा है। हरियाणा में भाजपा और जजपा की गठबंधन सरकार है, जिसके चलते जजपा को भी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। जजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के पिता अजय चौटाला गुरुवार को पानीपत के आर्य डिग्री कॉलेज में कार्यकर्ता सम्मेलन में भाग लेने पहुंचे थे। इसकी भनक भारतीय किसान यूनियन (चढ़ूनी ग्रुप) के पदाधिकारियों को लग गई। वह गुरुवार सुबह से ही आर्य डिग्री कॉलेज के सामने धरने पर बैठ गए। हालांकि मौके पर पुलिस तैनात थी, लेकिन शांतिपूर्ण धरने के कारण पुलिस ने ज्यादा विरोध नहीं किया। दोपहर करीब सवा 12 बजे जजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष की कारों का काफिला आर्य डिग्री कॉलेज पहुंचा तो भाकियू पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाने शुरू कर दिए। कुछ पदाधिकारियों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष की कार के सामने लेटने का प्रयास किया। तब पुलिस ने सख्ती बरतते हुए सभी को किनारे किया। इसके बाद जजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष कार्यक्रम स्थल तक पहुंचे।

कृषि कानूनों के चलते प्रदेशभर में सरकार के कार्यक्रमों का विरोध किया जा रहा है। इसी कारण जजपा ने कार्यकर्ता सम्मेलन का ज्यादा प्रचार-प्रसार नहीं किया था। कार्यक्रम में केवल जजपा पदाधिकारी और कार्यकर्ता बुलाए गए थे। इसके बाद भी भाकियू कार्यकर्ता मौके पर पहुंच गए।

जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय चौटाला ने कहा कि सरकार हर वर्ग के लोगों के लिए काम कर रही है। सरकार की नीतियों को लोगों तक पहुंचाएं। अधिक से अधिक लोगों को पार्टी से जोड़कर संगठन को मजबूत करें। कोरोना काल ने सरकार के सामने परेशानी पैदा की, लेकिन सरकार ने स्वास्थ्य के साथ अन्य सभी सुविधाओं को लोगों तक पहुंचाया है।

अपने भाई पर निशाना साधते हुए अजय चौटाला ने कहा कि हम पार्टी को झंडा, डंडा और फंड सभी देकर आए थे। इसके बाद भी वे 20 से 0 हो गए और हम 0 से 10 पर आ गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *