Wednesday, July 17, 2024
Latest:
HaryanaLatestNationalNCRPoliticsTOP STORIES

विधानसभा सत्र : हुडा और खट्टर के बीच नोकझोंक ,सीएम ने कहा भ्रष्टाचार ख़त्म कर पोर्टल बढाए जायेंगे , दुष्यंत चौटाला ने किया बीपीएल फर्ज़ीवाड़े का खुलासा

Spread the love

चंडीगढ़ ,27 दिसंबर ( धमीजा ) : हरियाणा शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन मुह्यमंत्री मनोहरलाल एवं पूर्व सीएम भूपेंदर हुडा कौशल रोज़गार  िगम मुद्दे पर आमने सामने हो गए।  हुडा ने मनोहरलाल से कहा कि मेरे अनुभवों से सीखना चाहिये , इसपर खट्टर ने कहा कि पहले आईने में अपनी शक्ल देखो फिर बात करना। हुडा ने कहा कि हम युवाओं के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगे तो खट्टर बोले , जिन्होंने भ्रष्टाचार को बढ़ाया उन्हें दर्द हो रहा है कि अब पोर्टल पर काम क्यों हो रहे हैं , भ्रष्टाचार ख़त्म कर और पोर्टल बढ़ाये जायँगे।

सदन की कार्यवाही में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला टूटी सड़कों को लेकर घिर गए। विधायक ने कहा कि टूटी सड़कें नहीं बनाई जा रही। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कुछ सड़कें डिफेक्ट लायबिलिटी पीरियड में हैं। बाकी के टेंडर लग रहे हैं।

इस पर विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि जो सड़कें डिफेक्ट लायबिलिटी पीरियड में हैं, उन्हें तो तुरंत ठीक कर सकते हैं। उसके लिए टेंडर की भी जरूरत नहीं। इस पर डिप्टी सीएम ने कहा कि इनकी लिस्ट दे दें तो तुरंत काम करा दिया जाएगा। वहीं शून्यकाल के दौरान नए सरपंचों को काम कराने के वित्तीय अधिकार घटाने को लेकर भी मुद्दा गूंजा।

डिप्टी सीएम दुष्यंत ने ही खोली बीपीएल फर्जीवाड़े की पोल
प्रश्नकाल के दौरान डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने बीपीएल परिवारों को लेकर हो रहे फर्जीवाड़े का खुलासा किया। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि विस अध्यक्ष के विधानसभा क्षेत्र पंचकूला के कृष्ण सैनी पहले बीपीएल की श्रेणी में थे। वह सेक्टर 19 के ग्राउंउ फ्लोर में रहते हैं। वह बिजनेसमैन हैं। उनकी पत्नी नीरू प्राइवेट जॉब करती है। बेटी स्वीटी प्राइवेट जॉब करती है।

इसी तरह गुरबचन कालरा और उनकी पत्नी की करनाल में दुकान चलती है। उसमें वह अच्छी कमाई करते हैं। सोनीपत में सुधीर पाल और उनके बेटे प्राइवेट जॉब करते हैं। जिनकी कमाई लाखों में है। इन सबको वैरिफिकेशन के बाद हटाया गया है।

विधानसभा सत्र के दूसरे दिन की कार्रवाई के बिंदु …

  • कौशल रोजगार निगम में भर्ती प्रक्रिया पर चर्चा के दौरान सीएम मनोहर लाल और पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा आमने सामने हो गए। सीएम ने हुड़्डा से कहा कि गलत बात हम बर्दाश्त नहीं करेंगे। हुड़्डा ने कहा कि मेरे अनुभवों से क्यों नहीं सीखते। इस पर सीएम ने पलटवार करते हुए कहा कि आईना देखा फिर कोई बात कहो। हुड्‌डा ने कहा कि हम हरियाणा के युवाओं के साथ खिलाबाड़ नहीं होने देंगे।
  • सीएम ने कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि सरकार पोर्टल पर चल रही है। उन्हे दर्द इसलिए हो रहा है कि क्योंकि जो उन्होंने भ्रष्टाचारियों की बड़ी फौज खड़ी की थी। वह अब धीरे धीरे खत्म हो रही है। सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए और पोर्टल जारी करेगी।
  • सीएम ने कहा कि क्राइटेरिया के दौरान अंक तय करेंगे। ताकि अपने अपने घर बैठे अपने मार्क्स गिन लें। समय समय पर बदलाव होता रहता है। किस विभाग में कितनी पोस्टें चाहिए। अब दो बदलाव बता रहा हूं। एक तकनीक युग आ गया है। अच्छी सरकार की व्यवस्था बनानी हैं तो हमें तकनीक को स्वीकारना ही होगा। हम एक रेसिलाइजेशन कमीशन बना रहे हैं। वह यह काम करेगा कि किसी विभाग में कितनी पोस्टें हैं वह बताएगा। जहां पोस्टें ज्यादा होंगी वहां कम की जाएंगी।
  • सीएम ने चैलेंज किया कि कौशल रोजगार निगम में भाई भतीजावाद से नौकरी नहीं दी गई है। उन्होंने कहा कि सदन के 90 विधायकों चाहे वह सत्ता पक्ष के हों या विपक्ष के किसी के रिश्तेदार को नौकरी नहीं दी गई है। इसके बाद भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कहा कि वह मुख्यमंत्री के तर्क से सहमत नहीं हैं। वह और अन्य कांग्रेसी विधायकों ने सदन का बहिष्कार कर दिया। हालांकि सदन की कार्यवाही अभी जारी है।
  • 109 करोड़ जारी हुआ खराब फसल मुआवजा हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने एक सवाल के जवाब में कहा कि किसानों की खराब फसल का 109 करोड़ मुआवजा जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि डीसी को भी निर्देश दिए जाएंगे कि वे संबंधित विधायकों के साथ बैठक कर उन्हें विधानसभा क्षेत्र वार ट्रेजरी में मुआवजे का कितना पैसा पड़ा हुआ है, उसकी जानकारी दें। ताकि विधायक किसानों से संपर्क कर उनसे बैंक खाता वेरिफाई करवाने में सहयोग कर सकें।
  • विधायक शीशपाल ने हरियाणा सरकार पर पंजाबी भाषा को खत्म करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार पंजाबी को दूसरी भाषा का दर्जा देने का दावा कर रही है। जबकि धरातल पर स्थिति कुछ और ही है। अभी सरकार ने 4000 शिक्षकों की पोस्ट निकाली है, लेकिन एक भी पोस्ट पंजाबी शिक्षक की नहीं है। सरकार को पंजाबी भाषा के शिक्षकों की पोस्ट निकालनी चाहिए।
  • पंचायत मंत्री देवेंद्र बबली ने कहा कि सरपंचों के अधिकार नहीं घटाए गए हैं। यह टेंडरिंग प्रक्रिया मैनुअल थी, उसे ऑनलाइन किया जा रहा है। इसके पूरे ड्राफ्ट को लेकर सीएम मनोहर लाल ने मीटिंग की है। कल वह सदन में इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे। उन्होंने विरोधी विधायकों पर सवाल उठाए कि वह सरपंचों को चोर कहकर बदनाम कर रहे हैं जबकि सरकार ने ऐसा कुछ नहीं कहा।
  • जेजेपी विधायक जोगीराम सिहाग ने शून्यकाल में कहा कि अभी अभी पंचायत चुनाव हुए है। सरपंच को पावर थी कि वह 20 लाख तक के विकास के कार्य कर सके, इसे अब घटाकर 2 लाख कर दिया गया है। मेरी सरकार से अपील है कि छोटी सरकार की ग्रांट घटाने की बजाय बढ़ाई जाए। ऐसा क्या कारण है कि सरपंचों की पावर घटाई जा रही है। ई- टेंडरिंग से छोटे टेंडर को कोई ठेकेदार लेने नहीं आएगा, जिस तरह से 2 लाख से अधिक काम के लिए ई- टेंडरिंग करवाने का काम किया है, यह बिल्कुल गलत है। बहुत से काम ऐसे है जो टेंडरिंग के अंदर नहीं आते।
  • विधायक किरण चौधरी ने सदन में पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि इसके लिए पोर्टल जी का जंजाल बन चुका है। उनकी बात सुनकर नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र हुड्‌डा ने कहा कि आजकल सब कुछ पोर्टल पर ही चल रहा है तो फिर सरकार और मंत्रियों की क्या जरूरत है।
  • BPL परिवारों को लेकर पूछे सवाल पर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि 1.80 लाख आय वाले बीपीएल परिवारों के वेरिफिकेशन का काम जारी है। अभी तक राज्य में 91% वेरिफिकेशन का काम पूरा हो चुका है। अब सिर्फ 9 प्रतिशत लोगों का वेरिफिकेशन बाकी है। इस वेरिफिकेशन के जरिए कई मामले ऐसे सामने आए हैं जो लाखों कमा रहे थे, लेकिन इसका लाभ ले रहे थे।
  • विधानसभा की कार्यवाही के दौरान भिवानी के तोशाम से विधायक किरण चौधरी ने कहा कि उनका सवाल पहले नंबर पर था। वह विधानसभा में पहले आकर बैठ गई। अब उनको कोने में डाल दिया गया है। उनका नंबर 10वां है। उन्होंने लिस्टिंग पर सवाल उठाते हुए कहा महत्वपूर्ण सवाल उठान थे। स्पीकर ने कहा कि लिस्ट को लेकर कोई कनफ्यूजन है। वह इसे चेक करा लेंगे। कुछ और विधायकों ने भी यह सवाल उठाए।
  • इसराना से विधायक बलबीर सिंह ने अपने हल्के में खराब सड़कों की मरम्मत और सड़कों के पुनर्निर्माण का मुद्दा उठाया। जिसका जवाब डिप्टी CM दुष्यंत चौटाला ने दिया उन्होंने कहा कि पांच सड़कों पर काम चल रहा है। बाकी सड़कें विधायक को मिलने वाले 25 करोड़ की राशि के तहत करवाया जाएगा इसके बाद विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने भी डिप्टी सीएम से टूटी सड़कों को लेकर चर्चा की।
  • स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि राज्य में मस्कुलर डिस्ट्रॉफी ग्रसित बच्चों को 2500 रुपए पेंशन मिलेगी। इस बारे में विधायक असीम गोयल सवाल उठाते हुए उत्तर प्रदेश और हिमाचल का उदाहरण दिया।