Wednesday, July 17, 2024
Latest:
BusinessFEATUREDGadgetsHaryanaLatestNationalNCRPoliticsTechnologyTOP STORIES

फरीदाबाद में सौर ऊर्जा पैनल बनाने वाली कम्पनी स्थापित ,केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह ने किया शुभारम्भ,तेजस हेलीकॉप्टर के पुर्जे भी बन रहे इसी फैक्ट्री में

Spread the love

फरीदाबाद , 16 अप्रैल ( धमीजा ) : केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा है कि सौर ऊर्जा आज विश्व की सबसे बड़ी जरूरत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल में जहां सौर ऊर्जा के क्षेत्र में अतुलनीय कार्य किए हैं, वहीं हरियाणा सहित विभिन्न प्रदेशों की सरकारें इसके लिए विभिन्न प्रकार की सब्सिडी प्रदान कर रहीं हैं। दी प्रिंटर्स हाउस टीपीएच प्राइवेट लिमिटेड ने सौर ऊर्जा प्लांट की स्थापना कर न केवल हरियाणा एनसीआर में बड़ी उपलब्धि अर्जितं की है, इसके साथ साथ  आत्म निर्भर भारत की दिशा में भी एक सार्थक प्रयास किया है। कुलस्ते शनिवार को मथुरा रोड बल्लबगढ़ स्थित दी प्रिंटर्स हाउस प्राईवेट लिमिटेड (टी.पी.एच.) ओरियन्ट ग्रुप कम्पनी में शनिवार को सौर उर्जा पैनल प्लांट के उद्घाटन समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा व यूपी के मंत्री विजय प्रताप सिंह मोजूद रहे। कार्यक्रम में भाजपा के जिलाध्यक्ष गोपाल शर्मा, प्रवक्ता राजीव जेटली के अलावा कई राजनेता व सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

कार्यक्रम का सयोजन व अध्यक्षता कंपनी के निदेशक ऋषभ कोहली ने की। परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने केंद्रीय राज्य मंत्री कुलस्ते का बल्लबगढ़ पहुंचने पर स्वागत करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश तरक्की के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है। आज देश में सुई से लेकर जहाज बनते हैं। उन्हे बेहद खुशी है की बल्लबगढ़ में भी अब सोलर पैनल प्लांट बनाया गया है जिससे आस पास में इलाके के साथ साथ देश और प्रदेश को नए आयाम मिलेंगे।

टीपीएच आजादी से पहले सन 1946 में स्थापित कम्पनियों में से एक है। जो भारत के कई इंजीनियरिंग उत्पादो के (विशेष रूप से प्रिंटिंग मशीन) के निर्माण और आपूर्ति में उद्योगो का नेतृत्व करती है।

इस कम्पनी की स्थापना स्वर्गीय किशन दास कोहली जी ने की थी। जो एक प्रसिद्ध स्वतन्तत्रा सेनानी और भारत में समाचार पत्र उद्योग की एक प्रसिद्ध हस्ती थे। टी.पी.एच. प्रिंटिंग मशीन आज भारत में ही नहीं अपितु दुनिया के 60 देशो में स्थापित कर कुशल कार्य कर रही है। आजाद भारत के बाद से अब तक (टीपीएच)अपना अस्तित्व बनाये हुए है तथा उद्योग जगत में अपने उत्पादो की गुणवत्ता में एक शानदार प्रतिष्ठा बनाये हुये है। उद्योग जगत में बेहतर गुणवत्ता के चलते टी.पी.एच. ओरियन्ट अब कई उद्योगों का समूह बन गया है।

प्रिंटिंग मशीन बनाने में महारथ हासिल कर चुकी टीपीएच ने शनिवार को पैकेजिंग मशीन, रक्षा विमान के कलपुर्जे एवं प्रिटिंग/ पैकेजिंग के अलावा अपने यहां सौर उर्जा पैनल बनाने के उद्योग की स्थापना कर उत्पादन शुरू किया है। जिसका उद्घाटन करते हुए अतिथियों ने प्लांट में शुरू किए गए उत्पादन का जायजा भी लिया।  उन्होंने सौर उर्जा के अलावा तेजस हेलीकॉप्टर से जुडे पूर्जे बनाए जाने पर भी खुशी जाहिर की।

कम्पनी के निदेशक ऋषभ कोहली ने बताया कि सोलर पैनल अब तक विदेशों से भी आयात किया जाता था, लेकिन अब यह उत्पादन टीपीएच अपने यहां कर रहा है। ऐसा करके हम आत्म निर्भर भारत का सपना साकार कर सकेंगे। हम तेजेस्व फाइटर प्लेन के पुर्जे बनाकर भी रक्षा क्षेत्र में अहम भागीदारी निभा रहे हैं। कम्पनी का यह कदम न केवल दिल्ली एनसीआर में अपितु पूरे भारत वर्ष में एक नई मिशाल कायम करेगा। यह प्लांट नार्थ इंडिया का दूसरा सबसे बडा प्लांट है, जो प्रतिवर्ष 400 किलोवाट क्षमता का है। जो इस साल के अंत तक अगले चरण में यह क्षमता एक गीगावॉट तक की जा रही है। सौर उर्जा पैनल के इस उत्पादन से उर्जा क्षेत्र में एक नई क्रांति आना तय है। जो नवीकरणीय ऊर्जा उत्पादन में आत्मनिर्भरता के भारत के उद्देश्यों के अनुरूप है। इससे गांव गांव व दूर दर दराज के क्षेत्रों में रोशनी जगमगा सकेगी।