Friday, June 21, 2024
Latest:
BusinesscrimeHaryanaLatestNationalNCRPoliticsSportsTOP STORIES

बृजभूषण की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पहलवानों ने इंडिया गेट पर निकाला तिरंगा मार्च

Spread the love

नई दिल्ली , 23 मई ( धमीजा ) : भारतीय कुश्ती संघ (WFI) के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जंतर-मंतर पर पहलवानों के धरने का एक महीना पूरा हो गया है। इस बीच, बृजभूषण की गिरफ्तारी नहीं होने के विरोध में मंगलवार को पहलवानों ने इंडिया गेट पर मार्च शुरू कर दिया है। इसमें तिरंगा लेकर लोग शामिल हुए। पहलवानों ने आरोप लगाया कि उनके मार्च को देखते हुए पुलिस ने इंडिया गेट को खाली करा दिया, ताकि लोग उनके समर्थन में हिस्सा न ले सकें।

वहीं, बृजभूषण ने कहा, ‘मैं उनसे मिलने कभी नहीं जाऊंगा। पहले वे मेरे पैर छूते थे और अब धरना देते हैं। वे षड्यंत्र के शिकार हैं। यह मामला यौन शोषण का नहीं, बल्कि गुड टच-बैड टच का है। बजरंग पूनिया की कुश्ती तो खत्म हो चुकी है।’ जवाब में विनेश फोगाट ने कहा कि उनके भी घर में मां-बेटियां और महिलाएं हैं।

 रेसलर्स के खिलाफ ये बोल रहे बृजभूषण …

1.  एफआईआर दर्ज होने पर भड़के बृजभूषण

एक टीवी चैनल से बातचीत में बृजभूषण ने कहा- क्या एफआईआर को फाइनल मान लिया जाएगा, क्या जांच एजेंसियां अपना काम बंद कर दें। क्या उसी को चार्जशीट मान लिया जाए। क्या सबूत-गवाह बयान की कोई आवश्यकता नहीं है। तो बंद कर दीजिए थानों को, बंद कर दीजिए जांच एजेंसियों को। कोई समाचार पत्र छापे और फांसी पर लटका दें।

2. कुछ दिन पहले तक पैर छूते थे यही पहलवान 
पहलवानों से मिलने के सवाल पर बृजभूषण ने कहा- हम क्यों जाएं जंतर-मंतर पर। जब इन्होंने कुछ नहीं छोड़ा। मेरा क्या सम्मान किया है। 15 दिन पहले तक पैर छूते थे। मेरी तारीफ करते थे, मेरे घर आते थे, मैं उनके घर जाता था। मैं फिर कहना चाहता हूं, ये षड्यंत्र के शिकार हैं। जब यह सारी कार्रवाई पूरी होगी, तब मेरे ऊपर ये कम गुस्सा करेंगे। जिनके जाल में यह फंसे हैं उनके ऊपर ज्यादा गुस्सा करेंगे।

3. हर तरह से जांच को तैयार
जब जांच दिल्ली पुलिस के पास विचाराधीन है, तो अब दिल्ली पुलिस ही फैसला करेगी। मैंने 15 दिन पहले कहा था कि अभी समय है, आप जिस तरह से दिल्ली पुलिस के बारे में बात करते हैं, लगता है कि आप दिल्ली पुलिस पर सवाल उठाएंगे। तो अभी से आप कपिल सिब्बल के पास चले जाएं और उनसे कहे कि इसकी CBI जांच करवाएं या अन्य किसी से जांच करवा लें, क्योंकि फिर जब दिल्ली पुलिस की रिपोर्ट आएगी, आप फिर बोलेंगे। बृजभूषण ने कहा- मुझे हर जांच पर भरोसा है, हर टेस्ट करवाने के लिए मैं तैयार हूं।

 मुकदमा छुआछूत का है, मामला गुड बैड टच का 
बृजभूषण ने मंगलवार को यूपी के मऊ में महाराणा प्रताप की जयंती समारोह में कार्यक्रम में कहा, ‘ये मुकदमा छुआछूत का है। सही छुआ या गलत छुआ। छुआछूत का रोग लेकर देवियां (महिला पहलवान) आ गई हैं। जो पहलवान प्रदर्शन कर रहे हैं, वे आज तक नहीं बता पाए कि कब हुआ, कहां हुआ, क्या- क्या हुआ, कैसे- कैसे हुआ।’

उन्होंने कहा, ‘कल खाप पंचायत हुई थी, उसमें यह तय हुआ कि सांसद जी का नार्को टेस्ट करा लिया जाए। शाम को मैंने बोल दिया कि मेरा नार्को करा लिया जाए, साथ ही आरोप लगाने वाली खिलाड़ियों का भी नार्को टेस्ट कराया जाए। ताकि षड्यंत्रकारियों का पता लगाया जा सके। ये जो मुकदमा है, वह बैड टच और गुड टच का है। ये छुआछूत का मुकदमा है।

 नार्को टेस्ट को तैयार रेसलर्स 
बृजभूषण की नार्को टेस्ट की चुनौती को रेसलर्स ने सोमवार को स्वीकार कर लिया था। बजरंग पूनिया ने कहा कि हम सभी किसी भी टेस्ट के लिए तैयार हैं, लेकिन इसे सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में कराया जाए। नार्को टेस्ट लाइव हो ताकि सवाल और जवाबों को पूरा देश सुने।