Wednesday, June 19, 2024
Latest:
crimeHaryanaLatestNationalNCRPoliticsTOP STORIES

राहुल गांधी संसद सदस्यता विवाद : हरियाणा में भारी विरोध, कई दिग्गज नेता कांग्रेस में शामिल, युवा कांग्रेसियों पर मुक़दमे दर्ज, फरीदाबाद में सत्याग्रह

Spread the love

फरीदाबाद , 26 मार्च ( धमीजा ) : राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द होने पर हरियाणा कांग्रेस भी विरोध की राह पर है। दिल्ली के साथ ही हरियाणा भर में कांग्रेसी नेताओं ने रविवार को 7 घंटे सत्याग्रह किया। चंडीगढ़ में सत्याग्रह के दौरान पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कहा कि हम इस फैसले से सहमत नहीं हैं, इसका पूरे हरियाणा प्रदेश में विरोध हो रहा है। चंडीगढ़ पार्टी मुख्यालय में पार्टी अध्यक्ष चौधरी उदयभान, राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्‌डा सहित अन्य नेताओं ने शिरकत की।

प्रदेश के कई बड़े नेताओं ने थामा कांग्रेस का दामन

हरियाणा कांग्रेस सत्याग्रह कार्यक्रम के बाद पार्टी मुख्यालय में दूसरे दलों के नेताओं की जॉइनिंग भी कराई गई। चंडीगढ़ मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम के दौरान पूर्व विधायक पदम सिंह दहिया, मूला राम और बिजेंद्र कादियान कांग्रेस में हुए शामिल। इनके  अलावा जजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष ललित बंसल, सेवानिवृत सेशन जज राकेश यादव, डॉ. कपूर सिंह (पूर्व मेंबर HPCC), समाज कल्याण भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अरविंद शर्मा भी कांग्रेस में शामिल हुए। पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई।

इस मामले में अदालत जाएगी कांग्रेस 
हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष उदयभान ने कहा कि राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द करने के फैसले को लेकर पार्टी पुरजोर विरोध करेगी। इस फैसले को लेकर पार्टी ऊपरी अदालत तक लड़ाई लड़ेगी। उदयभान ने कहा कि इस ममले को लेकर हम कानूनी तौर से लड़ाई लड़ेंगे और जीतेंगे भी।

ईडी सीबीआई से डरा कर हो रही राजनीति 
हरियाणा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष उदयभान ने कहा कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार बदले की भावना से काम कर रही है। सरकार दबाव बनाने के लिए इस तरीके के कार्य कर रही है। केंद्र की सरकार चाहे कितनी भी कोशिश कर ले, विपक्ष की आवाज को नहीं दबा पाएगी। विपक्ष का कोई भी नेता बोलता है तो ईडी – सीबीआई के जरिए डराया जाता है।

उदयभान ने बताया कि केंद्र सरकार लोकतंत्र के विपरीत काम कर रही है। इससे लोगों की अभिव्यक्ति की आजादी को खतरा पैदा हो गया है। उन्होंने बताया कि दिल्ली में हमारी कांग्रेस मुख्यालय में आपात बैठक बुलाई गई है। बैठक की अध्यक्षता मल्लिकार्जुन खड़गे करेंगे। इस मीटिंग में हरियाणा कांग्रेस के नेता भी शामिल होंगे।

प्रदर्शनकारी युवा कांग्रेस अध्यक्ष बुद्धिराजा सहित कईयों के खिलाफ एफआईआर दर्ज 

हरियाणा में राहुल गांधी की संसद सदस्यता रद्द किए जाने के समर्थन में प्रदर्शन युवा कांग्रेस नेताओं  के खिलाफ मुकदमा दर्ज। हरियाणा पुलिस ने जयपुर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग पर खेड़की-दौड़ा टोल पर टायर जलाकर जाम लगाने के विरोध में 11 युवा कांग्रेसी नेताओं के खिलाफ केस दर्ज किया है। इसमें युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष दिव्यांशु बुद्धिराजा का नाम भी शामिल है।

हरियाणा पुलिस ने युवा कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ आईपीएस धारा 147, 283 और 341 के तहत केस दर्ज किया है। इसमें युवक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष दिव्यांशु बुद्धिराजा सहित परमार ऊर्फ लाला, अरुण कुमार, अजय कुमार, विजय कुमार, अनिरुद्ध, मनोज कुमार, जय प्रकाश, अशोक कुमार, अज्जू के नाम शामिल हैं।

फरीदाबाद में राजीव गाँधी की प्रतिमा के समक्ष सत्याग्रह

इसी मामले को लेकर आज ओल्ड फरीदाबाद स्थित राजीव गांधी की प्रतिमा के समक्ष फरीदाबाद के कांग्रेसियों ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का चित्र लगाकर सत्याग्रह कर अपना विरोध जताया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पृथला विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक रघुबीर सिंह तेवतिया ने की, जबकि इस मौके पर मुख्य रूप से विधायक नीरज शर्मा, प्रदेश प्रवक्ता सुमित गौड़, पूर्व महापौर अशोक अरोड़ा, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पंडित योगेश गौड, फरीदाबाद युवा कांग्रेस अध्यक्ष शहरी नितिन सिंगला, महेश नागर, फरीदाबाद युवा कांग्रेस अध्यक्ष ग्रामीण अभिलाष नागर, अनीशपाल, राजेश आर्य, गिरीश भारद्वाज आदि मौजूद थे। इस मौके पर कांग्रेसियों ने इस पूरे प्रकरण के पीछे भाजपा का हाथ होने व अडानी मामले में राहुल गांधी द्वारा उठाई जा रही आवाज को दबाने की साजिश करार दिया। कांग्रेसियों ने संयुक्त रूप से कहा कि पूरा देश सच्चाई जानता है और भाजपा की इस तरह की ओछी राजनीति को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। राहुल गांधी के खिलाफ कार्रवाई इसलिए की गई क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अडानी मुद्दे पर संसद में उनके अगले भाषण से डर गए और आरोप लगाया कि पूरा खेल इस मुद्दे से लोगों के ध्यान को हटाने के लिए है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी अकेले नहीं हैं और लाखों कांग्रेसी और लोग चाहे वे किसी भी राजनीतिक जुड़ाव से हों, सच्चाई और न्याय की इस लड़ाई में उनका साथ देंगे। उन्होंने कहा कि इस मामले में जिस तरह से राहुल गांधी को सजा हुई, वह पूरी तरह से प्रायोजित प्रतीत होती है। कांग्रेस इस फैसले का पुरजोर विरोध करेगी। इस फैसले को लेकर पार्टी ऊपरी अदालत तक लड़ाई लड़ेगी। केंद्र की सरकार चाहे कितनी भी कोशिश कर लेए विपक्ष की आवाज को नहीं दबा पाएगी। विपक्ष का कोई भी नेता बोलता है तो ईडीए सीबीआई के जरिए डराया जाता है।

सत्याग्रह में अजय राठौर, अनिल नेताजी, संजय सोलंकी, राजेश खटाना, विकास वर्मा, कृष्ण अत्री, मनोज नागर, अनिल शर्मा, सुनीता फागना, रामकिशन सेन विनोद कौशिक, भरत अरोड़ा, जितेंद्र चंदेलिया, हरिलाल गुप्ता सहित अनेकों कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद थे।